लाइव टीवी

COVID-19: शिया जामा मस्जिद के इमाम बोले- जमातियों की मेडिकल स्टाफ से बदसलूकी इस्लाम के खिलाफ
Allahabad News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: April 3, 2020, 4:54 PM IST
COVID-19: शिया जामा मस्जिद के इमाम बोले- जमातियों की मेडिकल स्टाफ से बदसलूकी इस्लाम के खिलाफ
इमाम-ए-जुमा सैयद हसन रजा जैदी ने कोरोना को एक बड़ी जेहाद बताते हुए कहा कि सभी लोगों को मिलकर इससे लड़ना है

सैयद हसन रजा जैदी ने कोरोना (Coronavirus disease) को एक बड़ी जेहाद बताते हुए कहा कि सभी लोगों को मिलकर इससे लड़ना है. उन्होंने कहा कि डाक्टरों, नर्सेज और पुलिस पर किसी भी तरह का हमला करना हर लिहाज से गलत है, क्योंकि ये लोग ही अपनी जान की परवाह किए बगैर हमारी जान की हिफाजत कर रहे हैं.

  • Share this:
प्रयागराज. महामारी (Pandemic) कोरोना (COVID-19) के खिलाफ जंग लड़ रहे कोरोना योद्धाओं की हौसला अफजाई के लिए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) की अपील का मुस्लिम धर्म गुरुओं (Muslim religious leaders) ने भी समर्थन किया है. वहीं दूसरी तरफ शिया जामा मस्जिद (Shia Jama Masjid) के इमाम ने जमातियों द्वारा नर्सेज और मेडिकल स्टाफ से बदसलूकी और अश्लील हरकत की भी कड़ी निंदा करते हुए उनकी इस हरकत को इस्लाम के खिलाफ (against the Islam) बताया. देश के विभिन्न हिस्सों में मेडिकल टीम पर हो रहे हमलों पर भी कड़ा एतराज जताते हुए इमाम-ए-जुमा सैयद हसन रजा जैदी (Imam-e-Zuma Syed Hasan Raza Zaidi) ने कहा देश के कई हिस्सों में कोरोना संक्रमण (Coronavirus disease) की रोकथाम के लिए काम कर रहे डाक्टरों, नर्सेज और पुलिस पर किए गए हमले हर लिहाज से गलत हैं.

पीएम मोदी की अपील का समर्थन
बता दें कि पीएम मोदी ने देशवासियों से रविवार की रात को नौ बजे अपने घर के बाहर दीया, टॉर्च या मोमबत्ती जलाने की अपील की है. उन्होंने कहा है कि इसके जरिए हमें एकता का संदेश देकर कोरोना के अंधकार को मिटाना है. पीएम मोदी की इस अपील का विभिन्न धर्म गुरुओं समेत शिया जामा मस्जिद के इमाम-ए-जुमा सैयद हसन रजा जैदी ने भी समर्थन किया है. उन्होंने कहा है कि पूरा विश्व आज कोरोना की महामारी से जूझ रहा है. ऐसे में कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज कर रहे चिकित्सकों, नर्सेज व दूसरे मेडिकल स्टाफ के साथ ही साथ पुलिस कर्मियों की हौसला अफजाई के लिए पीएम की अपील का सभी लोग स्वागत और समर्थन करते हैं. उन्होंने लोगों को संदेश देते हुए कहा कि पीएम मोदी की अपील पर अमल करते हुए देशवासियों को रविवार रात नौ बजे घर की सभी लाइटें बंद कर नौ मिनट तक कोरोना योद्धाओं के सम्मान और उनका उत्साह बढ़ाने के लिए दीया, टॉर्च या मोमबत्ती जरुर जलाना है.

कोरोना एक बड़ी जेहाद



सैयद हसन रजा जैदी ने कोरोना को एक बड़ी जेहाद बताते हुए कहा कि सभी लोगों को मिलकर इससे लड़ना है. शिया जामा मस्जिद के इमाम सैयद हसन रजा जैदी ने देश के कई हिस्सों में कोरोना को लेकर आइसोलेट किए गए लोगों द्वारा डाक्टरों, नर्सेज और पुलिस पर किए गए हमले की भी कड़ी निंदा की है. उन्होंने कहा कि डाक्टरों, नर्सेज और पुलिस पर किसी भी तरह का हमला करना हर लिहाज से गलत है, क्योंकि ये लोग ही अपनी जान की परवाह किए बगैर हमारी जान की हिफाजत कर रहे हैं. उन्होंने गाजियाबाद में क्वारेंटाइन किए गए जमातियों द्वारा नर्सेज और मेडिकल स्टाफ से बदसलूकी और अश्लील हरकत को भी पूरी तरह से गलत बताया है. इमाम-ए-जुमा सैयद हसन रजा जैदी ने कहा कि जमातियों द्वारा की गई मारपीट की घटना हो या फिर अश्लील हरकत ये पूरी तरह से इस्लाम के भी खिलाफ है.



ये भी पढ़ें- COVID-19: नेपाल ने बॉर्डर पर छोड़ दिए अपने ही 181 नागरिक, बहराइच प्रशासन की मदद से हुई घर वापसी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इलाहाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 3, 2020, 4:54 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading