Covid-19 Update: प्रयागराज में कोविड-19 के 2324 नए मामले, 12 मरीजों की मौत

याचिका पर अगली सुनवाई 19 अप्रैल को होगी. (सांकेतिक फोटो)

याचिका पर अगली सुनवाई 19 अप्रैल को होगी. (सांकेतिक फोटो)

कोरोना वायरस (Corona virus) के बढ़ते मामलों को देखते हुए इलाहाबाद हाईकोर्ट ने मंगलवार को प्रदेश में कोरोना संक्रमण से अधिक प्रभावित शहरों में राज्य सरकार को दो या तीन हफ्ते के लिए पूर्ण लाॅकडाउन लगाने पर विचार करने का निर्देश दिया था.

  • Share this:
प्रयागराज. उत्तर प्रदेश के प्रयागराज जिले (Prayagraj District) में बृहस्पतिवार को 2324 व्यक्तियों के कोरोना वायरस (Corona virus) से संक्रमित होने की पुष्टि हुई. वहीं, 12 व्यक्तियों की कोविड-19 से मृत्यु हुई. यह जानकारी देते हुए जिले के पूर्व नोडल अधिकारी (कोविड-19) डॉक्टर ऋषि सहाय (Doctor Rishi Sahay) ने बताया कि बृहस्पतिवार को कुल 10,960 नमूनों की जांच की गई जिनमें से 2,324 नमूने के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई. उन्होंने बताया कि बृहस्पतिवार को 546 व्यक्तियों ने घर में पृथक वास पूरा किया और अभी तक 32,497 लोग घर में पृथक वास पूरा कर चुके हैं. डॉ.सहाय ने बताया कि बृहस्पतिवार को विभिन्न अस्पतालों से 83 मरीजों को छुट्टी दी गई.

वहींं, अगर पूरे प्रदेश की बात करें तो कल खबर सामने आई थी कि  उत्तर प्रदेश में एक बार फिर कोरोना अपने पैर पसार रहा है. हालात अब बद से बदतर होते दिख रहे हैं. पिछले 24 घंटों की बात की जाए तो राज्य में 20,510 नए कोरोना संक्रमित मामले सामने आए हैं. वहीं,  बात की जाए कुल मामलों की तो अभी तक एक्टिव केसेज 1,11,835 हो गए हैं. स्वास्‍थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने जानकारी दी कि पिछले 24 घंटों में मामले तो बढ़े हैं लेकिन इसके साथ ही 4517 लोगों ने कोरोना संक्रमण को मात भी दी है.

अगली सुनवाई 19 अप्रैल को होगी

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए इलाहाबाद हाईकोर्ट ने मंगलवार को प्रदेश में कोरोना संक्रमण से अधिक प्रभावित शहरों में राज्य सरकार को दो या तीन हफ्ते के लिए पूर्ण लाॅकडाउन लगाने पर विचार करने का निर्देश दिया था. कोर्ट ने कहा कि कहा है कि सड़क पर कोई भी व्यक्ति बिना मास्क के दिखायी न दे अन्यथा कोर्ट पुलिस के खिलाफ अवमानना कार्यवाही करेगी. कोर्ट ने कहा है कि सामाजिक धार्मिक आयोजनों में 50 आदमी से अधिक न इकट्ठा हों. याचिका पर अगली सुनवाई 19 अप्रैल को होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज