देवरिया शेल्टर होम कांड: HC की निगरानी में बनेगी न्यायिक कमेटी, हर महीने करेगी निरीक्षण

इस दौरान इलाहाबाद में सुरक्षित व्हिसल ब्लोवर 4 लड़कियों से बिना अनुमति मिलने पहुंची एनजीओ के 3 सदस्यों ने बिना शर्त माफ़ी मांगी. कोर्ट ने उन्हें गलती न दुहराने की चेतावनी दी.

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 5, 2018, 12:21 PM IST
देवरिया शेल्टर होम कांड: HC की निगरानी में बनेगी न्यायिक कमेटी, हर महीने करेगी निरीक्षण
इलाहाबाद हाईकोर्ट (फाइल फोटो)
News18 Uttar Pradesh
Updated: September 5, 2018, 12:21 PM IST
उत्तर प्रदेश के देवरिया शेल्टर होम मामले में उत्तर प्रदेश सरकार ने बुधवार को इलाहाबाद हाईकोर्ट में हलफनामा दाखिल कर दिया. सरकार ने हलफनामे में कहा है कि फंड की कमी के चलते क़ानूनी उपबन्धों का पालन करने में असमर्थ है.  मामले में कोर्ट ने कहा कि प्राइवेट व सरकारी शेल्टर होम में सीसीटीवी लगे. साथ ही राज्य सरकार फंड उपलब्ध कराए.

कोर्ट ने कहा कि सरकार ने शेल्टर होम्स की निगरानी कमेटी गठित की है. इस कमेटी में लीगल सर्विस अथॉरिटी के सचिव को भी शामिल करें. इसके अलावा कोर्ट साफ किया कि वह मामले में न्यायिक कमेटी गठित करेगा. महीने में एक बार ये कमेटी करेगी शेल्टर होम का निरीक्षण करेगी.

 

हाईकोर्ट ने कहा कार्रवाई संतोषजनक नहीं है



सरकार ने बताया देवरिया के शेल्टर होम में लाइसेंस निलंबित होने के बाद लड़कियों को भेजने वाले 28 पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई की गई है. इस पर हाईकोर्ट ने पूछा कि क्या की गई कार्रवाई? साथ ही कोर्ट ने पूछा कि निलम्बन क्यों नहीं किया गया? सरकार ने बताया 121 बरामद लड़कियों में से कुछ परिजनों को सौंपी गईं. इस पर कोर्ट ने कहा कार्रवाई सन्तोषजनक नहीं है. हाईकोर्ट ने मामले में तीन हफ्ते बाद रिपोर्ट तलब की. इस दौरान कोर्ट ने मनोरोग विशेषज्ञ की रिपोर्ट देखी और कहा कि वह इस संबंध में विस्तृत निर्देश करेंगे.

इस दौरान इलाहाबाद में सुरक्षित व्हिसल ब्लोवर 4 लड़कियों से बिना अनुमति मिलने पहुंची एनजीओ के 3 सदस्यों ने बिना शर्त माफ़ी मांगी. कोर्ट ने उन्हें गलती न दुहराने की चेतावनी दी. बता दें इस मामले में सीबीआई जांच का मामला अभी भी लटका है. वहीं पुलिस और एसआईटी केस में वीआईपी की संलिप्तता की जांच कर रही है. कोर्ट ने तीन हफ्ते के बाद मामले की अगली सुनवाई तय की है. मुख्य न्यायाधीश डीबी भोसले और न्यायमूर्ति यशवंत वर्मा की कोर्ट में ये सुनवाई हुई.

ये भी पढ़ें: 
Loading...

यूपी PWD घोटाला: 6 अफसरों पर कसा शिकंजा, निलंबन की संस्तुति

यूपी: प्रतियोगी परीक्षाओं में पेपर लीक करने वालों पर लगेगा रासुका

अपराधियों को ऐसी सजा मिलेगी कि उनकी रूह कांप जाएः BJP MLA संगीत सोम

कई मायने में ख़ास है लखनऊ का इकाना इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर