प्रयागराज में खतरे के निशान ऊपर पहुंची गंगा और यमुना, अलर्ट घोषित

Sarvesh Dubey | News18 Uttar Pradesh
Updated: August 20, 2019, 4:50 PM IST
प्रयागराज में खतरे के निशान ऊपर पहुंची गंगा और यमुना, अलर्ट घोषित
प्रयागराज में खतरे के निशान ऊपर पहुंची गंगा और यमुना

गंगा और यमुना के इस बढ़े हुए पानी ने अब प्रयागराज के निचले इलाकों को अपनी आगोश में लेना शुरू कर दिया है. तमाम रास्ते पानी में डूब गए हैं. हजारों मकानों में बाढ़ का पानी घुस गया है.

  • Share this:
संगम नगरी प्रयागराज में गंगा (Ganga) और यमुना (Yamuna) नदियों का जलस्तर तेजी से बढ़ता जा रहा है. दोनों ही नदियां खतरे के निशान से अब सिर्फ दो मीटर नीचे बह रही हैं. गंगा और यमुना नदियां जिस तेज रफ़्तार से बढ़ रही हैं, उससे यह आशंका जताई जा रही है कि दोनों नदियां जल्द ही खतरे के निशान को पार कर जाएंगी. गंगा और यमुना नदियों के बढ़ते जलस्तर को देखते हुए प्रशासन ने भी अलर्ट जारी कर दिया है.

घरों में घुसा बाढ़ का पानी

गंगा और यमुना के इस बढ़े हुए पानी ने अब प्रयागराज के निचले इलाकों को अपनी आगोश में लेना शुरू कर दिया है. तमाम रास्ते पानी में डूब गए हैं. हजारों मकानों में बाढ़ का पानी घुस गया है. प्रशासन ने भी अलर्ट जारी कर निचले इलाकों को खाली कराना शुरू कर दिया है. वहीं निचले इलाकों में पानी घुसने के बाद एनडीआरएफ (NDRF) की टीम भी बुला ली गई है. संगम जाने वाले सभी रास्ते और इसके नजदीक स्थित कई मठ -मंदिर व आश्रमों में भी बाढ़ का पानी भर गया है.

खाली कराए गए आसपास के इलाके
खाली कराए गए आसपास के इलाके


बाढ़ कंट्रोल रूम स्थापित

इससे लोगों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. तमाम लोग बेघर हो गए हैं और बाढ़ राहत केंद्रों में शरण लेने को मजबूर हैं. प्रशासन ने राहत व बचाव को लेकर कई एहतियाती कदम उठाए जाने के दावे किये हैं, लेकिन उसके दावे कागजों पर ज़्यादा और हकीकत में कम नज़र आ रहे हैं. सिंचाई विभाग के सहायक अभियन्ता दिनेश कुमार त्रिपाठी के मुताबिक बाढ़ कंट्रोल रूम और बाढ़ चौकियों से जलस्तर पर लगातार नजर रखी जा रही है.

राजस्थान से चंबल नदी ने छोड़ा पानी
Loading...

सिंचाई विभाग के सहायक अभियन्ता के मुताबिक राजस्थान में हो रही बारिश के चलते चंबल नदी का पानी छोड़ा जा रहा है, जिससे संगम में पानी लगातार बढ़ रहा है. हांलाकि उन्होंने दावा किया है कि अभी तक बाढ़ के चलते कोई बड़ी परेशानी नहीं आयी है, लेकिन एहतियातन नालों के गेटों को बंद करा दिया गया है. ताकि पानी शहर की ओर न लौटे.

ये भी पढ़ें:

योगी कैबिनेट विस्तार से पहले यूपी में 5 मंत्रियों का इस्तीफा, मचा हड़कंप

योगी कैबिनेट की बैठक में 18 प्रस्ताव पास, कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर लिया ये फैसला

 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इलाहाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 20, 2019, 4:49 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...