कोर्ट में पेश किए गए पूर्व सांसद अतीक अहमद, छोटे भाई के खिलाफ गैर जमानती वारंट

उमेश पाल अपहरण केस में आरोपी अतीक अहमद के बयान कोर्ट में दर्ज किए गए. इसी केस में अतीक अहमद के छोटे भाई अशरफ के पेश न होने के चलते कोर्ट ने अशरफ के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी कर दिया.

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 6, 2018, 4:52 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: September 6, 2018, 4:52 PM IST
देवरिया जेल में बंद बाहुबली पूर्व सांसद अतीक अहमद को एमपी-एमएलए के मुकदमों की सुनवाई के लिए गठित इलाहाबाद की स्पेशल कोर्ट में बुधवार को पेश किया गया. उमेश पाल अपहरण केस और महेन्द्र पटेल अपहरण केस में उन्हें पेश किया गया. उमेश पाल अपहरण केस में आरोपी अतीक अहमद के बयान कोर्ट में दर्ज किए गए. इसी केस में अतीक अहमद के छोटे भाई अशरफ के पेश न होने के चलते कोर्ट ने अशरफ के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी कर दिया.

एमपी-एमएलए स्पेशल कोर्ट ने दोनों ही मामलों की सुनवाई की अगली तारीख 15 सितम्बर तय की है. वहीं पेशी पर देवरिया जेल से लाए गए अतीक अहमद के वकीलों ने कोर्ट से उन्हें इलाहाबाद के नजदीक किसी जेल में रखने की मांग की जिससे उनसे जुड़े मामलों की सुनवाई में कोई परेशानी न हो.

वहीं जेल में पेशी पर आया बाहुबली एक बार फिर से लोगों को धमकाने के अंदाज में नजर आया. मीडिया के कैमरे के सामने आने पर अतीक ने कहा कि न मैं भू माफिया हूं और न ही मेरे नाम कोई बेनामी संपत्ति है. अतीक ने मीडिया को भी समझाने के अंदाज में कहा कि मेरा बेटा प्रेस कॉन्फ्रेंस करता है तो आप लोग कवर नहीं करते.

वहीं डेढ़ साल से ज्यादा समय से देवरिया जेल में बंद बाहुबली ने अपनी राजनीतिक सक्रियता दिखाते हुए कहा है कि सपा से अलग होकर समाजवादी सेक्युलर मोर्चा बनाने वाले शिवपाल यादव जल्द ही मुझसे जेल में मुलाकात करने वाले हैं. एक सवाल के जवाब में अतीक ने कहा कि उनके किसी भी दल में जाने के विकल्प खुले हैं.

रिपोर्ट – सर्वेश दुबे 

ये भी पढ़ें - 

हापुड़ लिंचिंग केस : सुप्रीम कोर्ट ने आईजी को दिया जांच की निगरानी का आदेश
Loading...
शिकागो के विश्व हिंदू कांग्रेस में मुख्य वक्ता होंगे RSS प्रमुख मोहन भागवत
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर