• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • UP Police कांस्टेबल, हेड कांस्टेबल सर्विस भर्ती रूल्स में संशोधन पर विचार करे सरकार: HC

UP Police कांस्टेबल, हेड कांस्टेबल सर्विस भर्ती रूल्स में संशोधन पर विचार करे सरकार: HC

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने यूपी पुलिस में भर्ती नियमों में संशोधन का सुझाव दिया है. (File photo)

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने यूपी पुलिस में भर्ती नियमों में संशोधन का सुझाव दिया है. (File photo)

High Court News: एक्टिंग चीफ जस्टिस एमएन भंडारी और जस्टिस एससी शर्मा की डिवीजन बेंच ने यूपी पुलिस कांस्टेबल, हेड कांस्टेबल सर्विस भर्ती रूल्स में संशोधन करने पर विचार करने का निर्देश दिया है. कोर्ट का कहना है कि एक ही भर्ती में अभ्यर्थी की लंबाई दो बार नापे जाने का औचित्य नहीं है.

  • Share this:

प्रयागराज. इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) ने पुलिस भर्ती नियमों में बदलाव की सिफारिश की है. हाईकोर्ट ने सरकार को कोर्ट आदेश का पालन करने को कहा है. कोर्ट ने यूपी पुलिस कांस्टेबल, हेड कांस्टेबल सर्विस भर्ती रूल्स में संशोधन करने पर विचार करने का निर्देश दिया है. हाईकोर्ट ने कहा है कि एक ही भर्ती में अभ्यर्थी की लंबाई दो बार नापे जाने का औचित्य नहीं है. प्रदेश सरकार की अपील पर कोर्ट ने ये आदेश दिया है.

दरअसल अमन कुमार ने कांस्टेबल भर्ती के लिए आवेदन किया था. शारीरिक दक्षता परीक्षा में उसकी लंबाई निर्धारित मानक 168 सेमी से कम पाई गई. याची ने हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की. एकल न्यायपीठ के आदेश पर सीएमओ द्वारा गठित मेडिकल बोर्ड ने उसकी लंबाई की जांच की तो लंबाई 168 सेमी से अधिक पाई गई. इस पर कोर्ट ने याची की नियुक्ति पर विचार करने का निर्देश दिया था, जिसे प्रदेश सरकार ने विशेष अपील में चुनौती दी थी.

एक्टिंग चीफ जस्टिस एमएन भंडारी और जस्टिस एससी शर्मा की डिवीजन बेंच ने ये आदेश दिया. इसमें कोर्ट ने यूपी पुलिस कांस्टेबल, हेड कांस्टेबल सर्विस भर्ती रूल्स में संशोधन करने पर विचार करने का निर्देश दिया है. कोर्ट का कहना है कि एक ही भर्ती में अभ्यर्थी की लंबाई दो बार नापे जाने का औचित्य नहीं है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज