• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • Lockdown: हाईकोर्ट का आदेश- ग्रीन जोन की अदालतें खुलेंगी, ऑरेंज में सिर्फ इन मामलों की सुनवाई

Lockdown: हाईकोर्ट का आदेश- ग्रीन जोन की अदालतें खुलेंगी, ऑरेंज में सिर्फ इन मामलों की सुनवाई

इलाहाबाद हाईकोर्ट में 8 मई से बिना कोट और गाउन के वकील प्रैक्टिस कर सकेंगे.

इलाहाबाद हाईकोर्ट में 8 मई से बिना कोट और गाउन के वकील प्रैक्टिस कर सकेंगे.

इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) ने 8 मई से निचली अदालतों में कामकाज शुरू करने का आदेश दिया है. हालांकि रेड जोन में सिर्फ जरूरी मुकदमों की ही सुनवाई होगी.

  • Share this:
प्रयागराज. कोरोना वायरस (COVID-19) की वजह से हुए लॉकडाउन (Lockdown) में अदालतों के कामकाज भी रोक दिए गए थे. लेकिन अब जबकि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने लॉकडाउन की पाबंदियों में छूट दे दी है, निचली अदालतों में काम शुरू करने की कवायद तेज कर दी गई है. इस क्रम में इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) ने प्रदेश की निचली अदालतों में कामकाज शुरू कराने का आदेश दिया है. हालांकि हाईकोर्ट ने इसके लिए दिशा-निर्देश भी जारी किए हैं.

इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) ने निचली अदालतों में बंद पड़े कामकाज शुरू करने की तारीख 8 मई तय की है. इसके मुताबिक 8 मई से ग्रीन और ऑरेंज जोन के तहत आने वाली अदालतों में कामकाज शुरू होगा. हालांकि, रेड जोन में आने वाली अदालतों को हाईकोर्ट ने अपने फैसले से बाहर रखा है. फिलहाल रेड जोन में आने वाली अदालतों में पूर्व की भांति अतिआवश्यक मुकदमों की ही सुनवाई होगी.

हाईकोर्ट के निर्देशों के अनुसार, ग्रीन जोन के अंतर्गत आने वाली सभी अदालतों में पहले की तरह कामकाज शुरू होगा. सभी प्रकार की अदालतें अपने यहां लंबित मामलों की सुनवाई करेंगी. वहीं, ऑरेंज जोन में आने वाले जिलों में फिलहाल सत्र न्‍यायालय, विशेष न्‍यायालय एवं मुख्‍य न्यायिक मजिस्‍ट्रेट की अदालतें ही बैठेंगी. इसके अलावा रेड जोन के अंतर्गत आने वाली अदालतों में सिर्फ अतिमहत्‍वपूर्ण मामलों की सुनवाई ही की जाएगी.

यह भी पढ़ें: गौतम बुद्ध नगर के दर्जनों किसानों को इलाहाबाद हाईकोर्ट से बड़ा झटका, नहीं रद्द होगा भूमि अधिग्रहण

सभी अदालतों को कराया जाएगा सैनेटाइज

हाईकोर्ट ने निर्दश दिया है कि निचली अदालतों को शुरू करने से पहले उन्‍हें सैनेटाइज किया जाएगा. सैनेटाइजेशन का कार्य जिलाधिकारी की मदद से जिला जज पूरी कराएंगे. साथ ही अदालत परिसर में प्रवेश करने से पहले स्‍वास्‍थ्‍य एवं सुरक्षा जांच भी होगी. अदालत परिसरों में सोशल डिस्‍टेंसिंग का पालन पूरी गंभीरता से कराया जाएगा. इसके अलावा जिलाधिकारी रोजाना कोरोना संक्रमण के मामलों की निगरानी रखते हुए आवश्‍यक कदम उठाएंगे. इस काम में जिला चिकित्‍साधिकारी भी मदद करेंगे.





यह भी पढ़ें: इलाहाबाद हाईकोर्ट: 8 मई से शुरू होगी मुकदमों की सुनवाई, दो शिफ्ट में बैठेंगी अदालतें

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज