Home /News /uttar-pradesh /

lord brahma ji had created the universe under the shade of akshayvat tree in prayagraj upns

भगवान ब्रह्मा जी ने इसी पेड़ की छांव के नीचे की थी सृष्टि की रचना, पढ़ें पूरा इतिहास

Prayagraj Akshayvat: कहा जाता है कि चीनी यात्री हुविंग सांग ने अपनी भारत यात्रा में यह लिखा कि लोग देवांगन में कूदकर अपनी जान देते हैं और यह अंधविश्वास है.जिसे लेकर अकबर बादशाह ने अक्षय वट में देवांगन को ढक दिया था. लोगों का कहना है जो इस वट वृक्ष की परिक्रमा करता है उसे ब्रह्मांड की परिक्रमा करने का फल मिलता है.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

परम आराध्य अक्षयवट के दर्शन
उस स्थान के सामने यमुनाजी के दूसरी ओर महादेव का मंदिर है

रिपोर्ट: योगेश मिश्रा

प्रयागराज: वेदों और पुराणों में वर्णित है कि भगवान ब्रह्मा जी ने सृष्टि की रचना की थी. मान्यता है कि सृष्टि की रचना को ब्रह्मा जी ने अक्षयवट की छांव में किया था. प्रयागराज के संगम में अक्षय वट वृक्ष मौजूद है कहा जाता है कि यह वृक्ष अजर अमर है सृष्टि खत्म हो जाएगी लेकिन यह वृक्ष खत्म नहीं होगा. मान्यता है कि अक्षय वट वृक्ष सृष्टि की रचना के समय से मौजूद है. मार्कंडेय पुराण में वर्णित है कि इस वृक्ष पर भगवान विष्णु शयन करते हुए बाल रूप में दिखाई दिए थे.

न्यूज़ 18 लोकल से बात करते हुए मंदिर के उप प्रधान पुजारी मुकेश नाथ गोस्वामी ने बताया कि अक्षय वट सृष्टि का परिचायक है. ब्रह्मा जी ने सृष्टि की रचना इसी वृक्ष की छांव में की थी. वहीं त्रेता युग में भगवान श्री राम वनवास के दौरान प्रयाग पहुंचे और इस वृक्ष की छांव में 3 दिन बिताएं थे. माता सीता ने इस वृक्ष को अजर अमर रहने का आशीर्वाद दिया था.

उप प्रधान पुजारी ने बताया कि यह मंदिर सुबह 6:00 खुलता है और शाम 6:00 बजे बंद हो जाता है.वहीं विशेष पूजा अर्चना की अगर बात की जाए तो मंदिर में रुद्राभिषेक की पूजा अर्चना के लिए भक्त आते रहते हैं. विशेष पूजा की अगर बात की जाए तो बरगदाही अमावस्या और सोमवारी अमावस्या को यहां विशेष पूजा अर्चना की जाती है.


कहा जाता है कि चीनी यात्री हुविंग सांग ने अपनी भारत यात्रा में यह लिखा कि लोग देवांगन में कूदकर अपनी जान देते हैं और यह अंधविश्वास है. जिसे लेकर अकबर बादशाह ने अक्षय वट में देवांगन को ढक दिया था. लोगों का कहना है जो इस वट वृक्ष की परिक्रमा करता है उसे ब्रह्मांड की परिक्रमा करने का फल मिलता है.

Tags: Allahabad news, Prayagraj News, UP news

अगली ख़बर