Home /News /uttar-pradesh /

माघ मेला 2022:-आम से खास सभी को भाता है माघ मेले का यह स्वाद, सभी हैं इन व्यंजनों के मुरीद

माघ मेला 2022:-आम से खास सभी को भाता है माघ मेले का यह स्वाद, सभी हैं इन व्यंजनों के मुरीद

प्रयागराज:-शहर में हर साल एक महीने यानी माघ के महीने में संगम के तट पर लोगों का भारी जमावड़ा होता है.यहां पर्यटकों और स्थानीयों लोगों की भीड़ इकट्ठा होती है.वजह होती है,माघ मेले का आनंद लेना.यहां संगम में स्नान करते,पुण्य की डुबकी लगाते,मेले का आनंद लेते,पूजा अर्चना करत?

अधिक पढ़ें ...

    प्रयागराज:-शहर में हर साल एक महीने यानी माघ के महीने में संगम के तट पर लोगों का भारी जमावड़ा होता है.यहां पर्यटकों और स्थानीयों लोगों की भीड़ इकट्ठा होती है.वजह होती है,माघ मेले का आनंद लेना.यहां संगम में स्नान करते, पुण्य की डुबकी लगाते, मेले का आनंद लेते, पूजा अर्चना करते, नाव में बैठकर संगम की लहरों को महसूस करते, सेल्फी लेते हुए युवा,यह दृश्य संगम के तट पर चारों ओर दिखाई देता है.बच्चे, युवा, बुजुर्ग, स्थानीय, पर्यटक, प्रदेश के लोग, बाहर से आए लोग सभी मेला क्षेत्र में एकत्रित होते हैं और यहां के रंग में रंग जाते हैं.इस एक महीने के दौरान यहां के स्थानीय लोगों व दुकानदारों की मेला क्षेत्र से अच्छी कमाई होती है. कमाई करने वालों में वह लोग भी शामिल है जो अपनी छोटी-छोटी दुकान लगाते हैं जिन्हें हर साल इंतजार होता है माघ का.ताकि उनकी आमदनी में इजाफा हो सके.यह वह लोग होते हैं जो हमेशा से इस क्षेत्र विशेष के खानपान को लेकर मेला क्षेत्र में मिलते हैं और पर्यटकों को यहां का स्वाद चखाते हैं.ऐसे कई सारे खाद्य पदार्थ हैं जो मेला क्षेत्र में बिकते रहे हैं और लोग उसे हमेशा से पसंद करते रहे हैं.तो चलिए जानते हैं कि वह कौन से खास स्वाद हैं जिन्हें बच्चे, युवा, बुजुर्ग सभी पसंद करते हैं और खासा उत्साहित होते हैं उसे खरीदने के लिए,चखने के लिए.

    चटपटे आलू और चिक्की होते हैं खाने में खास
    माघ मेले के दौरान आपको मेला क्षेत्र में हर एक किलोमीटर की दूर पर चटपटे आलू बिकते हुए नजर आएंगे.चटपटे आलू लोग खूब चाव से खाते हैं.इसके साथ ही चिक्की और रामदाना की कल्पवासी खासकर डिमांड करते हैं.यह माघ के सर्द मौसम में शरीर को गर्म रखती है.इसके साथ ही पेठा, पंचमेवा मिठाई भी लोगों द्वारा खूब पसंद की जाती है.मेला क्षेत्र में कंदमूल भी बिकता हुआ दिखाई देता है.आपको बता दें कि माघ मेले के दौरान ही यह फल यहां बिकता है. कंदमूल बेचने वाले राजीव बताते हैं कि वह हर साल मेले में कंदमूल बेचने आते हैं क्योंकि लोग इसे बहुत पसंद करते हैं.वह इसे चित्रकूट से लेकर आते हैं और बताते हैं कि यह वही फल हैं जिसे भगवान राम ने अपने वनवास के दौरान खाया था.

    आपके शहर से (इलाहाबाद)

    इलाहाबाद
    इलाहाबाद

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर