Home /News /uttar-pradesh /

Magh mela 2022-प्रयागराज में माघ मेले की तैयारियां हुई तेज, कोरोना की तीसरी लहर को लेकर किए जा रहे हैं विशेष इंतजाम

Magh mela 2022-प्रयागराज में माघ मेले की तैयारियां हुई तेज, कोरोना की तीसरी लहर को लेकर किए जा रहे हैं विशेष इंतजाम

प्रयागराज

प्रयागराज में आस्था का महापर्व माघ मेला शुरू होने वाला है.माघ मेला 2022, 15 जनवरी से शुरू हो रहा है. माघ मेला शुरू होने में 7 दिन ही शेष बचे हैं इसी के चलते प्रशासन की तैयारियां जोरों शोरों पर हैं.माघ मेला प्राधिकरण ने भी अपनी कमर कस ली है,विभिन्न विभागों द्वारा की जाने वाली तैयारी माघ मेले पर जमीनी स्तर पर साफ दिखाई देने लगी है.

प्रयागराज में आस्था का महापर्व माघ मेला शुरू होने वाला है.माघ मेला 2022, 15 जनवरी से शुरू हो रहा है. माघ मेला शुरू होने में 7 दिन ही शेष बचे हैं इसी के चलते प्रशासन की तैयारियां जोरों शोरों पर हैं.माघ मेला प्राधिकरण ने भी अपनी कमर कस ली है,विभिन्न विभागों द्वारा की जाने वाली तैयारी माघ मेले पर जमीनी स्तर पर साफ दिखाई देने लगी है.

अधिक पढ़ें ...

    प्रयागराज में आस्था का महापर्व माघ मेला शुरू होने वाला है.माघ मेला 2022, 15 जनवरी से शुरू हो रहा है. माघ मेला शुरू होने में 7 दिन ही शेष बचे हैं इसी के चलते प्रशासन की तैयारियां जोरों शोरों पर है.माघ मेला प्राधिकरण ने भी अपनी कमर कस ली है,विभिन्न विभागों द्वारा की जाने वाली तैयारी माघ मेले पर जमीनी स्तर पर साफ दिखाई देने लगी है.इस बार माघ मेला लगभग 580 हेक्टेयर की भूमि में बसेगा.7 हेक्टेयर में लगने वाले इस मेले में वर्तमान में सेक्टर 1 सेक्टर 2 में तमाम शिविर लग गए.माघ मेले में पहली बार लॉक रूम की सुविधा श्रद्धालुओं को दी जाएगी.

    आम श्रद्धालुओं की सहूलियत को ध्यान में रखते हुए संगम नोज पर 7 से 8 चेंजिंग रूम भी लगा दिए गए हैं.संगम पर 40 से 50 शौचालय भी बना दिए गए हैं.मेला प्राधिकरण की ओर से नदी में गहराई कम करने के लिए गहरे पानी में बालू डाली जा रही है,जिससे नदी के भीतर समतलीकरण का काम पूरा हो सके. बोरियों से घाट के कटान को भी रोकने का काम शुरू हो गया है.

    श्रद्धालुओं के लिए कोरोना टीकाकरण का प्रमाण पत्र होगा जरूरी
    प्रयागराज में लगने वाला माघ मेला 2022 कोरोना की तीसरी लहर के खतरे के बीच लग रहा है.कोरोना के नये वेरिएंट ओमीक्रोन ने देश भर में अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है.इसी के चलते माघ मेले में इस बार सभी श्रद्धालुओं के लिए कोरोना टीकाकरण का प्रमाण पत्र जरूरी हो गया है.सभी श्रद्धालुओं को कोरोना टीकाकरण का प्रमाण पत्र अपने साथ लाना होगा और दिखाना भी होगा.इसके साथ संगम नोज पर 250 फुट चौड़ा घाट तैयार किया जा रहा है,जिससे स्नान के वक्त न तो भीड़ लगी और ना ही संक्रमण का प्रसार हो सके.

    (रिपोर्ट-प्राची शर्मा, प्रयागराज)

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर