लाइव टीवी

Ayodhya Verdict: महंत नरेंद्र गिरी बोले-ओवैसी भारत और हिंदुओं के खिलाफ उगलते हैं जहर

News18 Uttar Pradesh
Updated: November 10, 2019, 10:42 AM IST
Ayodhya Verdict: महंत नरेंद्र गिरी बोले-ओवैसी भारत और हिंदुओं के खिलाफ उगलते हैं जहर
महंत नरेंद्र गिरी बोले-ओवैसी भारत और हिंदुओं के खिलाफ उगलते हैं जहर (फाइल फोटो)

महंत नरेंद्र गिरी ने चेतावनी देते हुए कहा है कि ओवैसी अगर इस तरह की भाषा का दोबारा इस्तेमाल करेंगे तो साधु संत समाज और अखाड़ा परिषद इसे बर्दाश्त नहीं करेगा. गिरि ने कहा है कि असदुद्दीन ओवैसी हमेशा से हिंदुओं और साधु संतों का अपमान करते आए हैं.

  • Share this:
प्रयागराज. साधु-संतों की सर्वोच्च संस्था अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी (Mahant Narendra Giri) ने रविवार को ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) पर निशाना साधा. महंत नरेंद्र गिरी ने अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद असदुद्दीन ओवैसी के बयान को राष्ट्रद्रोह बताया है. उन्होंने कहा है कि ओवैसी भारत और हिंदुओं के खिलाफ जहर उगलते रहते हैं. महंत नरेंद्र गिरि ने कहा कि अगर ओवैसी को भारत में अच्छा नहीं लगता है तो उन्हें भारत छोड़कर पाकिस्तान चले जाना चाहिए.

महंत नरेंद्र गिरी ने चेतावनी देते हुए कहा है कि ओवैसी अगर इस तरह की भाषा का दोबारा इस्तेमाल करेंगे तो साधु संत समाज और अखाड़ा परिषद इसे बर्दाश्त नहीं करेगा. गिरि ने कहा है कि असदुद्दीन ओवैसी हमेशा से हिंदुओं और साधु संतों का अपमान करते आए हैं. महंत नरेंद्र गिरि कहते है कि अगर ओवैसी को भारत में रहना है तो भारत के संविधान और न्यायपालिका के आदेश का पालन और सम्मान करना होगा.

नरेंद्र गिरी ने चेतावनी देते हुए कहा है कि भारत में रहकर अगर भारत के खिलाफ ओवैसी बयानबाजी करेंगे तो यह कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. उन्होंने कहा है भारतीय जनता पार्टी हमेशा राम मंदिर बनवाने के पक्ष में थी. देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय मंत्री अमित शाह के नेतृत्व में ही यह कार्य हुआ है. दोनों यह चाहते थे कि न्यायपालिका के आदेश का सम्मान करते हुए अगर मंदिर का निर्माण हो तो यह सबसे अच्छा रहेगा. महंत नरेंद्र गिरि ने कहा है देश में सभी धर्मों के लोग रहते हैं, ऐसे में अगर मंदिर निर्माण को जबरदस्ती करते और इसमें भेदभाव होता तो सामाजिक समरसता नहीं रहती और सांप्रदायिक सौहार्द भी बिगड़ता.

सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले से देश के प्रधानमंत्री और केंद्रीय गृह मंत्री की प्रतिष्ठा और बड़ी है. महंत नरेंद्र गिरि ने कहा है कि विश्व हिंदू परिषद, आरएसएस और अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद सभी राम मंदिर का निर्माण चाहते थे. उन्होंने कहा कि अब यह सुप्रीम कोर्ट के फैसले से संभव हो सका है. अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष ने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री को सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले के लिए और इस फैसले के आने के बाद देश में अमन शांति के लिए बधाई और आशीर्वाद दिया है.

ये भी पढ़ें:

बागपत: झोपड़ी में रहने वाले मजदूर को भेजा 46 लाख का बिजली बिल

'राम मंदिर ट्रस्ट में होंगे संघ-विहिप के लोग, सौंपे जाएंगे तराशे गए पत्थर'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इलाहाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 10, 2019, 10:42 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...