• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • Mahant Narendra Giri Death: महंत नरेंद्र गिरि की मौत की जांच के लिए SIT गठित

Mahant Narendra Giri Death: महंत नरेंद्र गिरि की मौत की जांच के लिए SIT गठित

Mahant Narendra Giri death: महंत नरेंद्र गिरी मामले में आधा दर्जन से ज्यादा लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया.

Mahant Narendra Giri death: महंत नरेंद्र गिरी मामले में आधा दर्जन से ज्यादा लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया.

Prayagraj News: डीआईजी, प्रयागराज ने विशेष जांच दल का गठन कर टीम का नेतृत्व डिप्टी एसपी अजीत सिंह चौहान को सौंपा है. मामले के विवेचक इंस्पेक्टर महेश भी एसआईटी में शामिल किए गए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

प्रयागराज. अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि (Mahant Narendra Giri) मामले की जांच के लिए डीआईजी, प्रयागराज ने विशेष जांच दल (SIT) का गठन कर दिया है. डिप्टी एसपी अजीत सिंह चौहान के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया गया है. मामले के विवेचक इंस्पेक्टर महेश भी एसआईटी में शामिल किए गए हैं.

जानकारी के अनुसार डीआईजी सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी द्वारा जार्जटाउन थाने में दर्ज एफआईआर की जांच के लिए जो एसआईटी गठित की गई है, उसकी अध्यक्षता सीओ अजीत सिंह चौहान करेंगे. इसमें दो सीओ समेत इंस्पेक्टर और सब इंस्पेक्टर स्तर के 18 जांच अधिकारी शामिल किए गए हैं. सीओ आस्था जायसवाल और विवेचक महेश सिंह भी एसआईटी में शामिल हैं,

बता दें मामले से जुड़े 2 वीडियो की जांच में पुलिस जुटी हुई है. एक वीडियो के आधार पर नरेंद्र गिरि को ब्लैकमेल करने की चर्चा है. वहीं सुसाइड नोट में भी नरेंद्र गिरि ने इस बात का जिक्र किया है. दूसरा वीडियो महंत नरेंद्र गिरि ने खुद बनाया था, जिसमें अपने खिलाफ हो रही साजिश के बारे में बताया है. दूसरा वीडियो महंत नरेंद्र गिरि के मोबाइल से मिला है. इन दोनो वीडियो की जांच से बड़ा खुलासा होने की उम्मीद है. इन वीडियो के आधार पर बड़ी साजिश होने की आशंका जताई जा रही है. जांच के बाद हो सकता है मामले में बड़ा खुलासा हो.

बता दें महंत नरेंद्र गिरि आत्महत्या मामले में पहली एफआईआर प्रयागराज के जॉर्ज टाउन थाने में दर्ज की गई है. महंत नरेंद्र गिरि के शिष्य अमर गिरि पवन महाराज की तरफ से दर्ज करवाई गई. एफआईआर में सिर्फ उनके शिष्य आनंद गिरि को नामजद आरोपी बनाया गया है. आनंद गिरि के खिलाफ आईपीसी की धारा 306 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है. उस पर आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप है.

एसआईटी में हैं 18 सदस्य

sit, Prayagraj News, Mahant Narendra Giri Death Case, UP News,

UP: प्रयागराज में महंत नरेंद्र गिरी मौत मामले की जांच में गठित एसआईटी के सदस्य

पुलिस ने आनंद गिरि को हरिद्वार से गिरफ्तार कर लिया है और उसे प्रयागराज ले आई है. पुलिस लाइन में आनंद गिरि से पूछताछ चल रही है. वहीं बड़े हनुमान मंदिर के पुजारी आद्या तिवारी और उनके बेटे संदीप तिवारी को भी पुलिस ने हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है.

एफआईआर के मुताबिक महंत नरेंद्र गिरि सोमवार दोपहर लगभग 12:30 बजे बाघम्बरी गद्दी के कक्ष में भोजन के बाद रोज की तरह विश्राम के लिए गए थे. रोज 3 बजे दोपहर में उनके चाय का समय होता था, लेकिन चाय के लिए उन्होंने पहले मना किया था और यह कहा था जब पीना होगा तो वह स्वयं सूचित करेंगे. शाम करीब 5 बजे तक कोई सूचना न मिलने पर उन्हें फोन किया गया. लेकिन महंत नरेंद्र गिरि का फोन बंद था. इसके बाद दरवाजा खटखटाया गया तो कोई आहट नहीं मिली. जिसके बाद सुमित तिवारी, सर्वेश कुमार द्विवेदी, धनंजय आदि ने धक्का देकर दरवाजा खोला. तब नरेन्द्र गिरि पंखे में रस्सी से लटकते हुए पाए गए.

FIR में आगे लिखा हुआ है कि जीवन की संभावना को देखते हुए शिष्यों ने रस्सी काटकर नरेंद्र गिरि को नीचे उतारा, लेकिन तब तक उनकी मौत हो चुकी थी. एफआईआर में जिक्र है कि महाराज पिछले कुछ महीने से आनंद गिरि को लेकर परेशान रहा करते थे. यह बात कभी-कभी वह स्वयं भी कहते थे कि आनंद गिरि हमें बहुत परेशान करता रहता है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज