• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • RIP Narendra Giri: महंत नरेन्द्र गिरी को पहले भी मिली थी जान से मारने की धमकी

RIP Narendra Giri: महंत नरेन्द्र गिरी को पहले भी मिली थी जान से मारने की धमकी

RIP Mahant Narendra Giri: आचार्य नरेंद्र गिरी को 2018 में भी मिली थी जान से मारने की धमकी.

RIP Mahant Narendra Giri: आचार्य नरेंद्र गिरी को 2018 में भी मिली थी जान से मारने की धमकी.

Mahant Narendra Giri Suicide: अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के प्रमुख महंत आचार्य नरेन्द्र गिरी का शव प्रयागराज स्थित उनके बाघम्बरी आश्रम के कमरे से मिला. सुसाइड नोट के आधार पर पुलिस ने उनके शिष्य आचार्य आनंद गिरी को हिरासत में लिया.

  • Share this:

लखनऊ. देश में साधुओं की सर्वोच्च संस्था अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत से हड़कंप मच गया है. सोमवार की दोपहर महंत गिरी का शव उनके बाघम्भरी आश्रम स्थित कमरे में फंदे से लटकता मिला. अपनी बेबाकी के लिए पहचाने जाने वाले महंत नरेंद्र गिरी को इससे पहले भी जान से मारने की धमकी मिली थी. साल 2018 में इसको लेकर महंत ने प्रयागराज में एफआईआर भी कराई थी.

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरी ने 2018 में प्रयागराज के दारागंज थाने में FIR दर्ज कराई थी. इसमें महंत नरेन्द्र गिरी ने झूंसी थाना क्षेत्र में रहने वाले एक योग गुरु सत्यम पर लगातार जान से मार देने की धमकी देने का आरोप लगाया था. नरेन्द्र गिरि ने बताया था कि ‘14 जुलाई को फोन कर मुझे जान से मारने की धमकी दी गई है. फोन पर व्यक्ति ने कहा कि मैं योगी सत्यम बोल रहा हूं. अगर मेरे खिलाफ किसी भी तरह की टिप्पणी की या फिर कोई बयान दिया, तो मार दिए जाओगे. इस तरह बार-बार फोन कर धमकी दी जा रही थी. जिसके चलते मैंने योगी सत्यम के खिलाफ थाने में तहरीर दी है.’

बाघम्बरी आश्रम से मिले सुसाइड नोट से घेरे में आए आनंद गिरी
महंत नरेंद्र गिरी की मौत के बाद पुलिस को उनके बाघम्बरी आश्रम से एक सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें उन्होंने अपने शिष्य आनंद गिरी पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है. इसके आधार पर स्थानीय पुलिस अभी महंत की मौत को आत्महत्या बता रही है. लेकिन महंत नरेन्द्र गिरी की आत्महत्या की वजह का अब तक कोई ठोस कारण सामने नहीं आया है. पुलिस इस मामले की गहनता से जांच कर रही है. जिसके तहत आश्रम में मौजूद कुछ लोगो से लगातार पूठताछ भी की जा रही है. ताजा खबरों के मुताबिक आनंद गिरी को हिरासत में ले लिया गया है.

महंत नरेन्द्र गिरी और शिष्य के बीच ये था विवाद
महंत नरेन्द्र गिरी का अपने शिष्य आनंद गिरी से लंबे समय से विवाद चल रहा था. 2019 में  महंत आनंद गिरी को ऑस्ट्रेलिया के सिडनी शहर में महिलाओं से उनके बेडरूम में मारपीट करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था. इसके बाद अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी ने श्रीनिरंजनी अखाड़े से जुड़े अपने शिष्य आनंद गिरी पर संन्यास परंपरा का उल्लंघन का आरोप लगाया था. इसके साथ ही उन्होंने प्रयागराज स्थित बाघम्बरी पीठ लेटे हनुमान मंदिर की गद्दी से आनंद गिरी को हटाने के साथ-साथ अखाड़े से भी बाहर करवा दिया था. इससे भड़के आनंद गिरी ने अखाड़े की संपत्ति को लेकर महंत नरेन्द्र गिरी पर गंभीर आरोप लगाए थे. इसमें संपत्ति के विवाद में ही निरंजनी अखाड़े से जुड़े महंत आशीष गिरी और महंत दिगंबर गंगापुरी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो जाने का दावा कर जांच कराने की मांग की गई थी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज