Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    बाहुबली विधायक विजय मिश्रा को HC से मिली राहत, मुकदमे को स्थानांतरित करने पर लगी रोक

    बाहुबली विधायक विजय मिश्रा को HC से मिली राहत (File photo)
    बाहुबली विधायक विजय मिश्रा को HC से मिली राहत (File photo)

    राज्य मानवाधिकारआयोग (State Human Rights Commission) के आदेश को प्रदेश सरकार ने चुनौती दी है.

    • Share this:
    प्रयागराज. उत्तर प्रदेश की आगरा जेल (Agra Jail) में बंद बाहुबली विधायक विजय मिश्रा (MLA Vijay Mishra) को इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) से फौरी राहत मिली है. इलाहाबाद हाईकोर्ट ने बाहुबली विधायक विजय मिश्र के खिलाफ भदोही में दर्ज आपराधिक मामले की विवेचना वाराणसी परिक्षेत्र के किसी अन्य जिले में स्थानांतरित करने पर रोक लगा दी है. कोर्ट ने राज्य मानवाधिकार आयोग में इस मामले में चल रही सुनवाई पर भी अगले आदेश तक के लिए रोक लगाते हुए चार हफ्ते में आयोग से जवाब मांगा है. मामले की जांच वाराणसी परिक्षेत्र की एसआईटी कर रही है. राज्य मानवाधिकारआयोग के आदेश को प्रदेश सरकार ने चुनौती दी है. न्यायमूर्ति शशिकांत गुप्ता और न्यायमूर्ति पंकज भाटिया की खंडपीठ ने याचिका की सुनवाई की.

    अपर महाधिवक्ता मनीष गोयल का कहना था कि आयोग ने 11 अगस्त, 17 सितंबर और 25 सितंबर 2020 के आदेशों से भदोही में दर्ज प्राथमिकी केस क्राइम नंबर 237/2020 की सुनवाई भदोही के अलावा वाराणसी परिक्षेत्र के किसी अन्य जिले में स्थानांतरित करने का आदेश दिया है. गोयल का कहना था कि ऐसा करते समय आयोग ने प्रक्रिया का पालन नहीं किया. महज यह कहते हुए कि दर्ज मुकदमा सिविल प्र‌कृति का है और इसे दर्ज करने के पीछे पुलिस अधिकारियों का पूर्वाग्रह दिखाई देता है.

    ये भी पढे़ं- झांसी में छेड़खानी से परेशान छात्रा ने दी जान, नोट में लिखा- मेरी मौत का बदला जरूर लेना



    मुकदमे की विवेचना स्थानांतरित करने का आदेश दिया गया है. कोर्ट ने मुद्दे को विचारणीय मानते हुए आयोग के आदेशों और उसके समक्ष चल रही प्रक्रिया पर अगले आदेश तक के लिए रोक लगा दी है. इससे पहले गैंगेस्टर एक्ट की विशेष अदालत ने विजय मिश्रा के 2 मकानों के ध्वस्तीकरण की कार्रवाई पर फिलहाल अगले आदेशों तक रोक लगा दी है. माफिया विजय मिश्रा की पत्नी रामलली मिश्रा की अर्जी पर गैंगेस्टर एक्ट की विशेष कोर्ट ने ये आदेश दिया है.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज