हेरिटेज घोषित होंगे 100 वर्ष से अधिक पुराने पेड़, काटना होगा प्रतिबंधित: योगी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रयागराज के वृक्ष महाकुंभ में शामिल हुए लेकिन स्थानीय कैबिनेट मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी और सिद्धार्थनाथ सिंह कार्यक्रम में शामिल नहीं हुए.

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 9, 2019, 5:26 PM IST
हेरिटेज घोषित होंगे 100 वर्ष से अधिक पुराने पेड़, काटना होगा प्रतिबंधित: योगी
प्रयागराज के वृक्ष महाकुंभ में शामिल हुए योगी आदित्यनाथ, दोनों मंत्री नदारद. (फाइल फोटो)
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 9, 2019, 5:26 PM IST
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रयागराज वृक्ष महाकुंभ में घोषणा की है कि 100 वर्ष से अधिक पुराने पेड़ हेरिटेज घोषित होंगे और ऐसे पेड़ों को काटना प्रतिबंधित होगा. उन्होंने कहा कि, “प्रयागराज किले के अंदर अक्षयवट हजारों वर्ष पुराना है. बाराबंकी में पांच हजार साल पुराना कल्पवृक्ष है. देशी आम के पेड़ों को कटने न दें, हम अपनी पीढ़ी को स्वच्छ पर्यावरण दें. योगी ने आगे कहा कि अगले वर्ष उत्तर प्रदेश में 25 करोड़ पौधे लगाने का लक्ष्य रखा गया है. वन है तो जल है. जल नहीं रहेगा तो प्रयागराज का महत्व ही नहीं रहेगा. जल है तो कल है, इसलिए पौधरोपण जरूरी है.

पीपल, पाकड़, बरगद, देशी आम, सहजन के पौधे लगाएं लोग
सीएम ने आह्वान किया कि लोग पीपल, पाकड़, बरगद, देशी आम, सहजन के पौधे लगाएं. ये अवसर हमें एक नया संदेश देता है. योगी ने कहा कि पूर्वज, प्रियजन या महापुरुष के नाम पर हम बागीचे लगाएं. स्वतन्त्रता सेनानियों के नाम पर नक्षत्र वाटिका लगाएं. अगर हम ये कार्य करेंगे तो प्रकृति का भी लाभ प्राप्त होगा. शुक्रवार शाम को पांच बजे तक प्रदेश में 22 करोड़ पौधरोपण का लक्ष्य पूरा कर लिया गया.

प्रयागराज के वृक्ष महाकुंभ में शामिल हुए योगी आदित्यनाथ, दोनों मंत्री नदारद

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रयागराज के वृक्ष महाकुंभ में शामिल हुए लेकिन स्थानीय कैबिनेट मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी और सिद्धार्थनाथ सिंह कार्यक्रम में शामिल नहीं हुए. सीएम योगी ने गुरुवार को ही मंत्री नंदी के स्टाम्प व रजिस्ट्रेशन विभाग में हुए करीब चार सौ तबादलों को रोक दिया था.

सीएम योगी ने लगाई थी इन तबादलों पर रोक
आरोप है कि भ्रष्टाचार की शिकायत पर सीएम योगी ने इन तबादलों पर रोक लगाई थी. स्थानीय मंत्री होने के बावजूद नंद गोपाल नंदी का सीएम के कार्यक्रम में शामिल न होना बना चर्चा का विषय बन गया है. नंदी के अलावा एक अन्य स्थानीय कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह भी कार्यक्रम में शामिल नहीं हुए हैं. सिद्धार्थनाथ के विभाग में भी कुछ दिनों पहले हुए तबादलों को सीएम योगी ने रद्द कर दिया था. इससे पहले प्रयागराज में हुए सीएम योगी के सभी कार्यक्रमों में दोनों मंत्री साथ ही रहते थे. चर्चा है कि सीएम योगी की नाराज़गी के चलते दोनों मंत्रियों को कार्यक्रम से दूर रखा गया है.
Loading...

रिपोर्ट – सर्वेश कुमार दूबे 
First published: August 9, 2019, 5:03 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...