लाइव टीवी

प्रयागराज में आज से शुरू होगा राष्ट्रीय शिल्प मेला, PM मोदी के थीम की दिखेगी झलक

News18 Uttar Pradesh
Updated: December 1, 2019, 11:56 AM IST
प्रयागराज में आज से शुरू होगा राष्ट्रीय शिल्प मेला, PM मोदी के थीम की दिखेगी झलक
प्रयागराज में आज से शुरू होगा राष्ट्रीय शिल्प मेला

मेले में हर दिन देश के कई राज्यों के लोक कलाकारों की रंगारंग सांस्कृतिक प्रस्तुतियां भी होंगी. मेले में खास तौर पर आदिवासी, लोक, शास्त्रीय-उपशास्त्रीय गायन और वादन के साथ ही नृत्यों से युवा पीढ़ी को जोड़ने की कोशिश की गई है.

  • Share this:
प्रयागराज. संगम नगरी प्रयागराज (Prayagraj) में पीएम मोदी (PM Modi) के एक भारत श्रेष्ठ भारत की थीम पर रविवार से राष्ट्रीय शिल्प मेले (National Crafts Fair) का आयोजन होने जा रहा है. यह मेला 1-10 दिसम्बर तक चलेगा. उत्तर मध्य क्षेत्र सांस्कृतिक केन्द्र में आयोजित होने जा रहे शिल्प मेले में देश के 19 राज्यों के 72 प्रकार के शिल्प उत्पाद प्रदर्शित किए जायेंगे. इसके साथ ही सात राज्यों के 24 प्रकार के व्यंजनों का भी लोग शिल्प मेले में लुत्फ उठा सकेंगे.

इलाहाबाद हाईकोर्ट के रिटायर्ड जस्टिस करेंगे उद्घाटन

शिल्प मेले का उद्घाटन आज  शाम 5.30 बजे इलाहाबाद हाईकोर्ट के रिटायर्ड जस्टिस एवं बीएचयू के चांसलर गिरधर मालवीय और ब्रिगेडियर वी.के.शर्मा कमांडेंट 508 आर्मी बेस वर्कशाप करेंगे. इस मौके पर मध्य प्रदेश के रीवां के सांसद जनार्दन मिश्र भी मौजूद रहेंगे. उत्तर मध्य क्षेत्र सांस्कृतिक केन्द्र के निदेशक इन्द्रजीत ग्रोवर के मुताबिक देश में हस्त शिल्प को बढ़ावा देने के लिए आयोजित किए जा रहे. शिल्प मेले में इस बार कई नये बदलाव और प्रयोग भी किए जा रहे हैं. जहां मेले में अलग फूड कोर्ट बनाया गया है. वहीं विकलांग हस्तशिल्पियों के लिए अगल स्टाल भी बनाये गए हैं. इसके साथ ही मेले में ही हस्त शिल्प निर्माण की कला भी लोगों को देखने और समझने का मौका मिले, इसका भी इंतजाम किया गया है.

मेले में क्या है खास

मेले में हर दिन देश के कई राज्यों के लोक कलाकारों की रंगारंग सांस्कृतिक प्रस्तुतियां भी होंगी. मेले में खास तौर पर आदिवासी, लोक, शास्त्रीय-उपशास्त्रीय गायन और वादन के साथ ही नृत्यों से युवा पीढ़ी को जोड़ने की कोशिश की गई है. राष्ट्रीय शिल्प मेले में कर्नाटक का सिल्क सूट एवं अन्य उत्पाद, मध्य प्रदेश की हैण्ड इम्ब्रायडरी,यूपी, झारखण्ड, बिहार के सिल्क वस्त्र, शाल, जयपुरी रजाईयां, कई प्रदेशों के स्टोन ज्वैलरी, कई प्रदेशों की साड़ियां, हैदराबाद का मशहूर मोती, बंगाल की धान ज्वैलरी, चटाई, ड्राई फ्लावर, कई प्रदेशों के चर्म शिल्प, राजस्थान का स्टोन कार्विंग, मोजाइक ग्लास टेराकोटा बर्तन, पंजाब की फुलकारी, जूती, मुरादाबाद के पीतल के बर्तन, भगवान के पोशाक लकड़ी के खिलौने, चादरें मुख्य आकर्षण होंगे.

सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन

राष्ट्रीय शिल्प मेले के सांस्कृतिक कार्यक्रमों की कड़ी में सुप्रसिद्ध शास्त्रीय गायक मधुप मुदगल, वर्तिका शुक्ला, बाल कलाकार साहिल चौहान, सुप्रसिद्ध भजन गायिका शहनाज अख्तर मंच पर अपनी प्रस्तुतियां देंगे. जबकि लोक नृत्यों की श्रृंखला में पियाली घोष का ओडसी नृत्य, रुहानी सिस्टर्स का सूफी गायन और कथक की जुगलबंदी के साथ ही मध्य प्रदेश के कलाकार दयाराम सालोरिया का कबीर गायन दर्शकों को देखने को मिलेगा. वहीं नई दिल्ली की कलाकार वासवती मिश्रा के कथन नृत्य का भी राष्ट्रीय मेले में आने वाले दर्शक लुत्फ उठायेंगे.
Loading...

ये भी पढ़ें:

मैनपुरी: 74 फर्जी शिक्षकों की सेवा समाप्त होने से मचा हड़ंकप

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इलाहाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 1, 2019, 11:56 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...