रेल यात्रियों को राहत दे सकता है केंद्र सरकार का ये फैसला, पूर्वांचल के लोगों को होगा बड़ा फायदा

कैबिनेट ने क्षमता से अधिक दबाव वाले क्षेत्रों में 3 नई रेल लाइनों को मंजूरी दी है. इसमें पूर्वांचल का खास ख्याल रखा गया है.

Chandan Kumar | News18 Uttar Pradesh
Updated: July 17, 2019, 10:27 PM IST
रेल यात्रियों को राहत दे सकता है केंद्र सरकार का ये फैसला, पूर्वांचल के लोगों को होगा बड़ा फायदा
3 नई रेल लाइनों को मंजूरी
Chandan Kumar | News18 Uttar Pradesh
Updated: July 17, 2019, 10:27 PM IST
यदि आप ट्रेनों में यात्रा करते हैं तो ये खबर आपके काम की है. बुधवार को कैबिनेट में 3 नई रेल लाइनों के निर्माण को मंजूरी दी गई है. तीनों नई लाइनें ऐसे इलाकों में दी गई हैं, जहां रेलवे पर क्षमता से अधिक दबाव है. इससे इन इलाकों के यात्रियों को कंजेशन से राहत मिलेगी. ये लाइनें हैं इलाहाबाद से मुगलसराय( दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन), पूर्वांचल में सहजनवां से लेकर दोहरीघाट और डिब्रूगढ़ रूट पर नई बोनगोइगांव रंगिया अखटोरी से एक नई रेल लाइन.

तीन ज़िलों के 21 स्टेशनों के यात्रियों को मिलेगा फायदा
बुधवार को कैबिनेट में तीन नई रेल लाईनों के निर्माण की मंजूरी दी गई है. इससे पूर्वी भारत की तरफ जाने वाली ट्रेनो में होने वाली देरी और कंजेशन से यात्रियों को बड़ी राहत मिलेगी. इसमें सबसे महत्वपूर्ण है इलाहाबाद से मुगलसराय( दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन) के लिए तीसरी लाईन का निर्माण. इस पर रेलवे 2890 करोड़ रुपये खर्च करने जा रहा है. ये काम 5 साल में पूरा होगा. अभी इस सेक्शन का कैपेसिटी यूटिलाइजेशन 159% है. इलाहाबाद से दीन दयाल उपाध्याय स्टेशन के बीच की दूरी करीब 150 किमी है, इसके बीच मे 21 स्टेशन हैं. यह चंदौली, मिर्जापुर और प्रयागराज तीन जिलों से होकर गुजरती है. इस सेक्शन पर हर रोज़ 50 जोड़ी ट्रेनें और 41 मालगाड़ियां गुजरती हैं.

Allahabad क्षेत्र के यात्रियों को मिलेगा फायदा
इलाहाबाद क्षेत्र के यात्रियों को मिलेगा फायदा


पूर्वांचल में सहजनवां से लेकर दोहरीघाट के बीच नई लाइन को मंजूरी
कैबिनेट ने जिस दूसरी लाइन को मंजूरी दी है वो पूर्वांचल में सहजनवां से लेकर दोहरीघाट के बीच नई लाइन है. इंदरा से दोहरीघाट तक पहले से डबलिंग का काम चल रहा है. इसके निर्माण के साथ कि उत्तर बिहार की ओर से आने वाली ट्रेनों को लखनऊ इलाहाबाद कानपुर जाने के लिए एक नया रूट मिल जाएगा. फिलहाल सीवान, देवरिया, गोरखपुर, गोण्डा, बस्ती होकर ट्रेनें जाती है. इसपर कुल 1442 करोड़ रुपये की लागत आएगी. 81 किलोमीटर की ये नई लाइन 5 साल में बनकर तैयार होगी.

पूर्वांचल के लोगों को होगा फायदा, People of purvanchal will be benefitted
पूर्वांचल के लोगों को होगा फायदा

Loading...

डिब्रूगढ़ रूट का कंजेशन दूर करने की तैयारी
इसके साथ ही असम के नई बोनगोइगांव रंगिया अखटोरी के एक नई लाईन 143 किलोमीटर जो कि डिब्रूगढ़ रूट जाने में होने वाले कंजेशन को दूर करेगा. फिलहाल इसकी 186% कैपेसिटी यूज में है. 2248 करोड़ की लागत से यह काम 4 साल में पूरा होगा. इसपर 131 नए पुल और 20 स्टेशन होंगे.

ये भी पढ़ें -

इन दुकानदारों को नहीं मिलेगी 3000 रुपये वाली पेंशन, जानें किसे मिलेगा फायदा

और ताकतवर हुई NIA, राज्य सभा में पास हुआ संशोधन बिल
First published: July 17, 2019, 9:57 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...