दिग्विजय सिंह की जीत के लिए हवन करने वाले मिर्ची बाबा निरंजनी अखाड़े से निष्कासित

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरी ने कहा कि स्वामी वैराग्यानंद का कार्य गलत था. उनका आचरण साधु-संतों की मर्यादा के खिलाफ था.

News18 Uttar Pradesh
Updated: May 25, 2019, 11:35 AM IST
दिग्विजय सिंह की जीत के लिए हवन करने वाले मिर्ची बाबा निरंजनी अखाड़े से निष्कासित
स्वामी वैराग्यानंद की फाइल फोटो
News18 Uttar Pradesh
Updated: May 25, 2019, 11:35 AM IST
भोपाल लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह की जीत के लिए हवन करने वाले स्वामी वैराग्यानंद उर्फ मिर्ची बाबा को निरंजनी अखाड़े से निष्कासित कर दिया गया है. स्वामी वैराग्यानंद पंचायती अखाड़ा श्री निरंजनी के महामंडलेश्वर थे.

दरअसल, उन्होंने बीजेपी प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा सिंह को हराने के लिए हवन किया था. उन पर राजनीतिक बयानबाजी करने का भी आरोप लगा था. अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरी ने कहा कि स्वामी वैराग्यानंद का कार्य गलत था. उनका आचरण साधु-संतों की मर्यादा के खिलाफ था.



उन्होंने बताया कि अखाड़े के पंच परमेश्वर की बैठक के बाद उन्हें निष्कासित करने का निर्णय लिया गया. महंत नरेंद्र गिरी ने बताया कि किसी के अहित के लिए पूजा कराना गलत है. संत के तौर पर उन्होंने राजनीतिक विद्वेष से ग्रसित होकर दिग्विजय सिंह की जीत और साध्वी प्रज्ञा की हार के लिए पूजा अनुष्ठान किया.

गौरतलब है कि स्वामी वैरागानंद के कई आश्रम गुजरात और मध्य प्रदेश में हैं. स्वामी वैराग्यानंद को दिग्विजय सिंह का करीबी बताया जाता है. वैराग्यानंद ने चुनाव के दौरान कई क्विंटल लाल मिर्ची का हवन करवाया था. साथ ही उन्होंने दावा किया था कि अगर दिग्विजय सिंह हार जाएंगे तो वह समाधि ले लेंगे.

बता दें कि मालेगांव बम धमाकों की आरोपी रही साध्वी प्रज्ञा सिंह को बीजेपी ने भोपाल सीट से दिग्विजय सिंह के खिलाफ मैदान में उतारा था. साध्वी प्रज्ञा सिंह ने दिग्गी राज को रिकॉर्ड वोटों से हराया. हालांकि, साध्वी प्रज्ञा नाथूराम गोडसे और हेमंत करकरे की शहादत को लेकर विवादित बयान भी दिए थे.

ये भी पढ़ें:

NDA को 64 सीटें देने वाले यूपी से ये चेहरे हो सकते हैं मोदी कैबिनेट में शामिल
Loading...

पश्चिम और पूर्वांचल में सफल रहा सपा-बसपा गठबंधन, अवध, ब्रज और बुंदेलखंड में बीजेपी को लाभ

नरेंद्र मोदी अगले 5 साल में तैयार करेंगे 25 साल की तेज आर्थिक ग्रोथ की जमीन!

Lok Sabha Election 2019 Result: यूपी में इस केंद्रीय मंत्री को छोड़कर सभी ने दर्ज की जीत
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...