प्रयागराज: पूर्व सांसद अतीक अहमद के ऑफिस पर भी चला योगी सरकार का बुल्डोजर

अब गिराया जा रहा अतीक अहमद का दफ्तर
अब गिराया जा रहा अतीक अहमद का दफ्तर

आरोप है कि इस कार्यालय को प्रयागराज विकास प्राधिकरण से स्वीकृत नक्शे के विपरीत अवैध रूप से बनाया गया है. इसी कार्यालय में बैठकर बाहुबली अतीक अहमद (Atique Ahmad) राजनीतिक गतिविधियों को संचालित करता था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 20, 2020, 12:20 PM IST
  • Share this:
प्रयागराज. पूर्व सांसद अतीक अहमद (Atique Ahmad) के खिलाफ एक और बड़ी कार्रवाई की गई है. बाहुबली के चकिया स्थित कार्यालय के ध्वस्तीकरण की कार्रवाई प्रयागराज विकास प्राधिकरण (PDA) द्वारा शुरू की गई है. डीएम की अनुमति मिलने के बाद पीडीए ने रविवार को ध्वस्तीकरण की कार्रवाई शुरू की. मौके पर कई थानों की फ़ोर्स भी लगाई गई है. आठ हिस्से को मिलाकर बना है तीन मंजिला आलीशान कार्यालय. गैंगस्टर एक्ट के तहत इस कार्यालय को पहले ही कुर्क किया जा चुका है.

आरोप है कि इस कार्यालय को प्रयागराज विकास प्राधिकरण से स्वीकृत नक्शे के विपरीत अवैध रूप से बनाया गया है. इसी कार्यालय में बैठकर बाहुबली अतीक अहमद राजनीतिक गतिविधियों को संचालित करता था. अब तक बाहुबली की तीन सौ करोड़ से ज्यादा की अवैध संपत्ति के खिलाफ कार्रवाई की गई है. बसपा शासनकाल में भी इस कार्यालय पर बुलडोजर चला था. लेकिन सपा सरकार के साता में आने के बाद अतीक अहमद ने दुबारा निर्माण कराया था.

गुजरात की अहमदाबाद जेल में बंद बाहुबली पूर्व सांसद अतीक अहमद के खिलाफ पुलिस और प्रशासन की कार्रवाई लगातार जारी है. पांच बार के विधायक और एक बार देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू की संसदीय सीट फूलपुर से सांसद निर्वाचित हो चुके बाहुबली अतीक अहमद का साम्राज्य लगातार बिखरता जा रहा है.



करीबी मोहम्मद अब्बास का भी मैक टॉवर सील
योगी सरकार के निर्देश पर इन दिनों यूपी के जिन बड़े माफिया और अपराधियों के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है, उसमें भूमाफिया घोषित हो चुके आईएस गैंग के सरगना बाहुबली अतीक अहमद का भी नाम शामिल है. पुलिस और प्रशासन लगातार बाहुबली की आर्थिक कमर तोड़ने की दिशा में कार्रवाई कर रहा है. बाहुबली अतीक अहमद गैंग के सदस्य और उसके करीबी मोहम्मद अब्बास खान के सिविल लाइंस स्थित शापिंग काम्पलेक्स मैक टाॅवर को सील करने के बाद प्रयागराज विकास प्राधिकरण ने उसके ड्रीम प्रोजेक्ट किसान कोल्ड स्टोरेज पर भी सरकारी बुलडोज़र चला दिया है.

पत्नी के नाम था कोल्ड स्टोरेज
अतीक अहमद की पत्नी शाइस्ता परवीन के नाम झूंसी के कटका में स्थित कोल्ड स्टोरेज को छह-छह जेसीबी मशीनें लगाकर जमींदोज कर दिया गया है. इस प्रापर्टी को डीएम भानुचन्द्र गोस्वामी ने 7 सितंबर को कुर्क करने का आदेश जारी किया था. डीएम ने प्रशासन को कुर्की की कार्रवाई पूरी कर 25 सितंबर तक रिपोर्ट भी मांगी थी लेकिन किसान कोल्ड स्टोरेज को कुर्क करने में सबसे बड़ी बाधा इसमें हजारों किसानों का रखा आलू था. जिसे प्रशासन में पहले दूसरे कोल्ड स्टोरेज में शिफ्ट कराया और उसके बाद कुर्की की कार्रवाई पूरी की.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज