लाइव टीवी

प्रयागराज: मकर संक्रांति के पर्व पर संगम में उमड़ा आस्था का सैलाब, ब्रह्म मुहूर्त में श्रद्धालुओं ने लगाई डुबकी

Sarvesh Dubey | News18 Uttar Pradesh
Updated: January 15, 2020, 7:52 AM IST
प्रयागराज: मकर संक्रांति के पर्व पर संगम में उमड़ा आस्था का सैलाब, ब्रह्म मुहूर्त में श्रद्धालुओं ने लगाई डुबकी
मकर संक्रांति के मौके पर संगम में स्‍नान करते श्रद्धालु.

Happy Makar Sankranti: ऐसी मान्यता है कि मकर संक्रांति के पर्व पर खिचड़ी और गुड़, तिल दान करने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं और मोक्ष की प्राप्ति होती है.

  • Share this:
प्रयागराज. पूरे देश के साथ ही मकर संक्रांति (Makar Sankranti) का पर्व तीर्थराज प्रयाग में बड़े ही श्रद्धा और आस्था के साथ मनाया जा रहा है. मकर संक्रांति के पर्व पर संगम (Sangam) में श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ पड़ा है. गंगा, यमुना और अदृश्य सरस्वती की त्रिवेणी पर अलग ही छटा इस मौके पर देखने को मिल रही है. ब्रह्म मुहूर्त से ही श्रद्धालुओं के यहां आने का क्रम शुरू हो गया था. यहां पर आकर बड़ी संख्या में साधु-संत और श्रद्धालुओं ने आस्था की डुबकी लगाई.

संगम में स्नान और दान का विशेष महत्व
घाटों पर अद्भुत नजारा देखने को मिल रहा है, जहां लोग पूजा अर्चना करते देखे जा रहे हैं. वहीं, खिचड़ी, गुड़ और तिल का दान कर रहे हैं. ऐसी मान्यता है कि मकर संक्रांति के पर्व पर खिचड़ी और गुड़, तिल दान करने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं और मोक्ष की प्राप्ति होती है. ऐसी भी मान्यता है कि माघ के माह में सभी देवता आकर प्रयागराज में वास करते हैं. ऐसे में यहां पर आकर कल्पवास करने और संगम में स्नान कर दान पुण्य करने से सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं. मकर संक्रांति के पर्व पर संगम में स्नान और दान का विशेष महत्व है. क्योंकि आज के दिन ही सूर्य मकर राशि में प्रवेश करता है. सूर्य के उत्तरायण होने पर मांगलिक कार्य भी शुरू हो जाते हैं.

सुरक्षा के व्यापक प्रबंध

मकर संक्रांति के मौके पर प्रशासन ने भी संगम में व्यापक इंतजाम किया है. स्नान घाटों पर जहां डीप वाटर बैरीकेडिंग लगाई गई है. वहीं, स्नान घाटों पर जल पुलिस को भी तैनात कर दिया गया है. मेले की सुरक्षा के लिए 200 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं. मेले की सुरक्षा के लिए 5 हजार पुलिस, पीएसी के साथ ही आरएएफ की कंपनी को तैनात किया गया है. इसके साथ ही आतंकी हमले की आशंका के मद्देनजर एटीएस और एसटीएफ तैनात की गई है. मेले को सकुशल संपन्न कराने के लिए इंटेलिजेंस एजेंसियों को भी सक्रिय कर दिया गया है.

ये भी पढ़ें- शाहीन बाग की तर्ज पर प्रयागराज में मुस्लिम महिलाओं ने CAA-NRC के खिलाफ संभाली मोर्चे की कमान...मकर संक्रांति विशेष: नेपाल की सुख-शांति के लिए गोरखनाथ को चढ़ाई जाती है खिचड़ी, जानिये क्या है पूरी कहानी....

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इलाहाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 15, 2020, 7:29 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर