Home /News /uttar-pradesh /

सिपाही भर्ती मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने फैसला रखा सुरक्षित

सिपाही भर्ती मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने फैसला रखा सुरक्षित

यूपी पुलिस में 35 हजार सिपाहियों की भर्ती प्रक्रिया की वैधता को चुनौती देने वाली याचिका पर सुनवाई पूरी होने के बाद इलाहाबाद हाईकोर्ट ने फैसला सुरक्षित कर लिया है.

यूपी पुलिस में 35 हजार सिपाहियों की भर्ती प्रक्रिया की वैधता को चुनौती देने वाली याचिका पर सुनवाई पूरी होने के बाद इलाहाबाद हाईकोर्ट ने फैसला सुरक्षित कर लिया है.

यूपी पुलिस में 35 हजार सिपाहियों की भर्ती प्रक्रिया की वैधता को चुनौती देने वाली याचिका पर सुनवाई पूरी होने के बाद इलाहाबाद हाईकोर्ट ने फैसला सुरक्षित कर लिया है.

यूपी पुलिस में 35 हजार सिपाहियों की भर्ती प्रक्रिया की वैधता को चुनौती देने वाली याचिका पर शुक्रवार को सुनवाई पूरी होने के बाद इलाहाबाद हाईकोर्ट ने फैसला सुरक्षित कर लिया है.

याचिकाकर्ता रणविजय सिंह सहित सैकड़ों अभ्यर्थियों की ओर से दाखिल याचिका पर दोनों पक्षों की लम्बी चली बहस पूरी होने के बाद कोर्ट ने फैसला सुरक्षित किया है.

हाईकोर्ट ने पुलिस भर्ती रुल्स की पत्रावली भी 24 जनवरी को कोर्ट में तलब की है. गौरतलब है कि याचिका में यूपी पुलिस आरक्षी- मुख्य आरक्षी सर्विस रुल्स 2015 को चुनौती दी गई है.

राज्य सरकार ने पुलिस आरक्षी-मुख्य आरक्षी सर्विस रुल्स 2008 में संशोधन कर पुलिस कांस्टेबल भर्ती की नई नियमावली में लिखित परीक्षा को समाप्त कर हाई स्कूल, इण्टरमीडिएट की मेरिट और दौड़ के अंको आधार पर पुलिस कांस्टेबलों की भर्ती का प्रावधान किया है.

यूपी पुलिस में 35 हजार सिपाहियों की भर्ती के लिए राज्य सरकार ने 29 दिसम्बर 2015 को विज्ञापन निकाला था. जिसके तहत सभी जिलों में भर्ती प्रक्रिया भी पूरी कर ली गई है.

लेकिन इलाहाबाद हाईकोर्ट ने पहले ही अन्तिम परिणाम जारी करने पर रोक लगा रखी है. मामले की सुनवाई इलाहाबाद हाईकोर्ट में जस्टिस तरुण अग्रवाल और जस्टिस अभय कुमार की डिवीजन बेंच में हुई.

Tags: Allahabad high court

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर