लाइव टीवी

प्रयागराज: CAA-NRC के विरोध में महिलाओं का प्रदर्शन 23वें दिन भी जारी
Allahabad News in Hindi

Sarvesh Dubey | News18 Uttar Pradesh
Updated: February 3, 2020, 1:26 PM IST
प्रयागराज: CAA-NRC के विरोध में महिलाओं का प्रदर्शन 23वें दिन भी जारी
प्रयागराज में महिलाओं का धरना 23वें दिन भी जारी

मुस्लिम महिलायें सीएए को काला कानून बताया और कहा कि जब तक इसे वापस नहीं लिया जाएगा तब तक वे धरना बंद नहीं करेंगी.

  • Share this:
प्रयागराज. नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के विरोध में दिल्ली के शाहीन बाग की तर्ज पर ही प्रयागराज (Prayagraj) के मंसूर अली पार्क (Mansoor Ali Park) में भी मुस्लिम महिलाओं (Muslim Women) का धरना (Dharna) लगातार 23वें दिन भी जारी है. मुस्लिम महिलायें सीएए को काला कानून बताया और कहा कि जब तक इसे वापस नहीं लिया जाएगा तब तक वे धरना बंद नहीं करेंगी. प्रदर्शनकारी मुस्लिम महिलायें जहां लगातार पार्क में चौबीसों घंटे धरना दे रही हैं, वहीं उनके परिवार के पुरुष भी धरना स्थल पर लगी बैरीकेटिंग के बाहर डटे हुए हैं. इस पूरे आन्दोलन की कमान महिलाओं के हाथों में हैं. लिहाजा पुलिस और प्रशासन भी धरना खत्म कराने के लिए अब तक कोई ठोस पहल नहीं कर पाया है. क्योंकि महिलाओं के साथ धरने में उनके साथ छोटे-छोटे बच्चे भी शामिल हैं.

हांलाकि पुलिस और प्रशासन धरने पर नजर बनाये हुए है, लेकिन धरना खत्म कराने को लेकर प्रशासन किसी जल्दबाजी के मूड में नजर नहीं आ रहा है. मुस्लिम महिलाओं का आरोप है कि धरने के 23 दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस और प्रशासन का कोई अधिकारी उनकी मांगों को लेकर बातचीत करने धरना स्थल पर नहीं आया है.

केंद्रीय मंत्री के ट्वीट को बताया जुमला

वहीं केन्द्र सरकार की ओर से केन्द्रीय कानून मंत्री रविशंकर के ट्वीट कर बातचीत का संकेत दिए जाने का भी आन्दोलनकारी महिलाओं पर कोई असर नहीं हो रहा है. महिलाओं ने केन्द्रीय कानून मंत्री के इस ट्वीट को जुमला बताते हुए कहा है कि सरकार की किसी भी बात पर उन्हें कोई भरोसा नहीं है. प्रदर्शनकारी मुस्लिम महिलाओं ने कहा है कि सीएए और एनआरसी खत्म करने को लेकर लिखित आश्वासन मिले बगैर अब ये धरना खत्म नहीं होगा. वहीं सीएए का विरोध कर रहे छात्रों पर हुए हिंसक हमले में घायलों के लिए भी प्रदर्शनकारियों ने सरकार से भरपाई की मांग की है.

ये भी पढ़ें:

बांदा: कर्ज से परेशान किसान ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

BSP MLA के खिलाफ दर्ज हुई छेड़खानी की FIR, पीड़िता बोलीं- कंप्रोमाइज का दबाव

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इलाहाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 3, 2020, 1:26 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर