अपना शहर चुनें

States

कोरोना संक्रमण ग्रीन जोन घोषित हुए प्रयागराज के इन सरकारी दफ्तरों में कामकाज शुरू

माध्यमिक शिक्षा परिषद के कार्यालयों में 250 कर्मचारी हैं. जिनमें से 82 कर्मचारियों को ही बुलाया गया है.
माध्यमिक शिक्षा परिषद के कार्यालयों में 250 कर्मचारी हैं. जिनमें से 82 कर्मचारियों को ही बुलाया गया है.

प्रयागराज (Prayagraj) में भी कोरोना के इकलौते पॉजिटिव मरीज की जांच रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद जिला ग्रीन जोन में शामिल हो गया है. जिसके चलते प्रयागराज जिले में भी डीएम के निर्देश पर कई जरूरी सेवाओं को आज से लोगों के लिए खोल दिया गया है.

  • Share this:
प्रयागराज. कोरोना (COVID-19) संक्रमण के खतरे को लेकर ग्रीन जोन (Green Zone) घोषित हो चुके जिलों में सोमवार से राहत की राह खुल गई है. संगम नगरी प्रयागराज (Prayagraj) में भी कोरोना के इकलौते पॉजिटिव मरीज की जांच रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद जिला ग्रीन जोन में शामिल हो गया है. जिसके चलते प्रयागराज जिले में भी डीएम के निर्देश पर कई जरूरी सेवाओं को आज से लोगों के लिए खोल दिया गया है. इसके साथ ही पिछले कई दिनों से बंद सरकारी दफ्तर भी आज से खुल गए हैं. कलेक्ट्रेट और विकास भवन के साथ ही यूपी लोक सेवा आयोग, शिक्षा निदेशालय और यूपी बोर्ड के भी दफ्तर आज से खुले हैं.

यूपी लोक सेवा आयोग में ड्यूटी पर आने वाले हर कर्मचारी की गेट पर ही रोककर थर्मल स्कैनिंग करायी जा रही है. इसके साथ ही हैंडवाश और हाथों को सेनेटाइज भी कराया जा रहा है. खुल रहे दफ्तरों में कर्मचारियों और अधिकारियों को भी सोशल डिस्टैंसिंग का पालन करने का निर्देश जारी किया गया है.

गौरतलब है कि सीएम योगी आदित्यनाथ ने रविवार को सभी जिलों के डीएम और एसएसपी से वीडियो कांफ्रेन्सिंग में स्पष्ट तौर पर निर्देश दिया है कि 19 संवेदनशील जिलों में जहां 10 से ज्यादा कोरोना पॉजिटिव केस हैं, उन जिलों के जिलाधिकारी ही सजगता और सतर्कता बरतते हुए लॉक डाउन पर छूट के लिए कोई निर्णय लेंगे. सीएम ने साफ किया है कि हॉट स्पॉट वाले क्षेत्रों में फिलहाल कोई छूट नहीं दी जायेगी और सख्ती बरकरार रहेगी.



जिला प्रशासन ने इलेक्ट्रीशियन, प्लम्बर जैसे जरूरी सेवाओं के लिए लिस्ट भी जारी की
इसके साथ ही प्रयागराज में जिला प्रशासन ने इलेक्ट्रीशियन, प्लम्बर जैसे जरूरी सेवाओं के लिए लिस्ट भी जारी की है, ताकि जरूरतमंद लोग इन नम्बरों पर फोन करके अपनी समस्या का समाधान कर लें. वहीं अभी भी पब्लिक ट्रांसपोर्ट, रोडवेज बसों और ट्रेनों का संचालन नहीं हो सकेगा.

कोरोना वायरस की महामारी के बीच जारी लॉक डाउन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर ग्रीन जोन शहरों में सरकारी कार्यालयों को खोला गया है. जिनमें विभागीय कामकाज शुरू हुए हैं. हालांकि सभी कार्यालयों में एक तिहाई कर्मचारियों के आने की अनुमति है, जिन्हें अल्टरनेट तरीके से बुलाया जाएगा.

माध्यमिक शिक्षा परिषद में विभागीय कामकाज शुरू

प्रयागराज में स्थित माध्यमिक शिक्षा परिषद में विभागीय कामकाज शुरू हुआ है. यूपी बोर्ड की सचिव नीना श्रीवास्तव ने बताया कि 82 कर्मचारी आज कार्यालय आए हैं. इस दौरान पहले दफ्तरों को सैनिटाइज कराया जा रहा है. इसके साथ ही कार्यालयों में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ लोगों को बैठने की हिदायत दी जा रही है. कार्यालय में किसी भी तरह की चीजों को बेचने की अनुमति नहीं है. चाय, नाश्ता कोई भी बाहरी व्यक्ति कार्यालय में लेकर नहीं आ सकता है.

28 दिन बाद प्रयागराज की सड़कों का सन्नाटा टूटा है. लोग अपने दफ्तरों के लिए निकल रहे हैं. माध्यमिक शिक्षा परिषद के कार्यालयों में 250 कर्मचारी हैं. जिनमें से 82 कर्मचारियों को ही बुलाया गया है. अन्य लोगों को अभी आने की अनुमति नहीं है. न ही बाहरी किसी व्यक्ति को प्रवेश मिल रहा है.

इंडोनेशिया के जमाती की रिपोर्ट आई निगेटिव तो मिली राहत 

बता दें प्रयागराज में इंडोनेशियाई जमाती के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद से हड़कंप मचा था. हालांकि 14 दिन क्वारेन्टाइन में रहने के बाद कोरोना टेस्ट नेगेटिव आया. इसके बाद प्रयागराज प्रशासन ने राहत की सांस ली. प्रयगराज जिले को ग्रीन जोन घोषित किया गया है. सरकारी दावों के मुताबिक जिले में कोई भी कोरोना मरीज नहीं है.

वहीं 28 दिनों के बाद सरकारी कार्यालयों के खुलने पर सड़कों पर रौनक दिख रही है लेकिन आम लोगों के लिए अभी भी प्रशासन बेहद सख्ती से पेश आ रहा है. दोपहिया वाहनों पर एक व्यक्ति और चार पहिया वाहन पर दो व्यक्तियों के बैठने की अनुमति है. वहीं बाजारों में अभी भी सन्नाटा पसरा हुआ है. शहर के कटरा और सिविल लाइंस के बाजार अभी बंद है. इसके लिए जिलाधिकारी द्वारा अभी कोई निर्देश भी जारी नहीं किया गया है.

ये भी पढ़ें:

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने की पालघर घटना की निंदा, जांच की मांग की

Lockdown खुलते ही शुरू होगा राम मंदिर निर्माण, ट्रस्ट को मिले दस्तावेज
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज