Home /News /uttar-pradesh /

प्रयागराज:- आज भी कायम है इलाहाबादी अमरूदों की बादशाहत,सर्दियों में है लोगो की खास पसंद

प्रयागराज:- आज भी कायम है इलाहाबादी अमरूदों की बादशाहत,सर्दियों में है लोगो की खास पसंद

विश्व

विश्व भर में मशहूर इलाहाबादी अमरूद

सर्दियां शुरू होते ही अमरुद लोगों की खास पसंद बन जाती है और अगर बात इलाहाबादी अमरूद की हो तो क्या ही कहने.यहां पाए जाने वाले अमरूदों की अलग-अलग प्रजातियां और मिठास आपको कहीं और नहीं मिलेंगी.सुरखा अमरूद को तो जीआई (GI) भी प्राप्त है. इसके अलावा इलाहाबादी सफेदा,धारीदार,चित्तीदार,सरदार अमरुद जैसे अमरुदो की कई प्रजातियां लोगों को बेहद पसंद आती हैं.

अधिक पढ़ें ...

    इलाहाबाद वर्तमान में प्रयागराज अपनी अलग-अलग खासियतों के चलते देशभर में मशहूर है.इस प्रसिद्धि का एक प्रमुख कारण यहां के अमरुद भी है.इलाहाबादी अमरूदों की मिठास देश ही नहीं विदेशों में भी पसंद की जाती है. मशहूर शायर अकबर इलाहाबादी ने क्या खूब कहा है ‘कुछ इलाहाबाद में सामां नहीं बहबूद के,मां धरा क्या है बजुज़ अकबर के और अमरूद के’
    यहां पाए जाने वाले अमरूदों की अलग-अलग प्रजातियां और मिठास आपको कहीं और नहीं मिलेंगी.सुरखा अमरूद को तो जीआई (GI) भी प्राप्त है. इसके अलावा इलाहाबादी सफेदा,धारीदार,चित्तीदार,सरदार अमरुद जैसे अमरुदो की कई प्रजातियां लोगों द्वारा बेहद पसंद की जाती है. इन दिनों सर्दियों में शहर के नुक्कड़ से लेकर बड़े बाजारों तक इलाहाबादी अमरूद की धूम है.

    इस बार इलाहाबादी अमरूद की पैदावार हुई है कम
    विदेशों तक मशहूर इलाहाबादी अमरूदों की पिछले साल से पैदावार कम हो रही है.उत्पादकता कम होने के कारण इन दिनों बाजार में अलग किस्म के अमरुद भी नजर आ रहे हैं.जी हां इन दिनों बाजारों में आकार में बड़े छत्तीसगढ़ी अमरूद(जंबो अमरुद) भी बिक रहे हैं. उत्पादकता कम होने के कारण और अमरूदों में कीड़े लग जाने के कारण इस बार इलाहाबादी अमरूद बाजार में कम दिख रहे हैं और उनकी जगह छत्तीसगढ़ी अमरूदों ने ले ली है. आपको बता दें कि छत्तीसगढ़ी अमरुद आकार में बड़े और महंगे होते हैं. इन्हें 15 दिनों तक संरक्षित किया जा सकता है.एक अमरुद लगभग 400 से 500 ग्राम का होता है.बाजार में छत्तीसगढ़ी अमरुद 80 से ₹100 किलो बिक रहे हैं.

    अभी भी लोगों की पहली पसंद है इलाहाबादी अमरूद
    कुछ स्वाद लोगों के ज़हन में इस कदर बस जाते हैं कि उसकी जगह और कोई नहीं ले सकता.यही हाल है इलाहाबादी अमरूदो का.इस बार भले ही बाजार में अलग-अलग तरह के अमरुद दिखाई दे रहे हो लेकिन लोग अभी भी इलाहाबादी अमरूद को ही पसंद करते हैं और वह उसी की डिमांड करते हैं. इलाहाबादी अमरूद के स्वाद का कोई मुकाबला नहीं इसलिए इसकी बादशाहत आज तक कायम है.फलों के व्यापारी ओमप्रकाश गुप्ता कहते हैं कि हमारे यहां तो लोग सबसे पहले यही पूछते हैं कि इलाहाबादी अमरूद कितने रुपए किलो? अमरुद खरीदने आए ग्राहक गुड्डू पांडे कहते हैं कि हम तो हमेशा इलाहाबादी अमरूद ही खरीदते हैं चाहे जितने महंगी मिले. हमारे रिश्तेदार भी दूर-दूर से हमें इलाहाबादी अमरूद खरीद के भेजने की मांग करते हैं.राधाकांत सिंह कहते हैं कि मुझे बड़ा गर्व होता है कि हमारे शहर का अमरूद विदेशों में भी खूब पसंद किया जाता है.

    (रिपोर्ट-प्राची शर्मा)

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर