प्रयागराज में कोरोना से पहली मौत, आर्किटेक्ट ने इलाज के दौरान तोड़ा दम
Allahabad News in Hindi

प्रयागराज में कोरोना से पहली मौत, आर्किटेक्ट ने इलाज के दौरान तोड़ा दम
भोपाल में 15 गैस त्रासदी के पीड़ित लोगों की कोरोना से मौत का दावा.

बता दें मृतक की पत्नी भी संक्रमित है और उसका इलाज भी एसआरएन अस्पताल में चल रहा है. जानकारी के मुताबिक आर्किटेक्ट राहत सामग्री बांटने के दौरान संक्रमित हुआ था.

  • Share this:
प्रयागराज. संगम नगरी प्रयागराज (Prayagraj) में मंगलवार रात कोरोना संक्रमण (Coronavirus) से पहली मौत हुई. कोरोनावायरस से संक्रमित लूकरगंज निवासी आर्किटेक्ट की स्वरूपरानी नेहरू अस्पताल में बने कोविड-19 लेवल थ्री हास्पिटल में इलाज के दौरान मौत हो गई. डॉक्टरों के मुताबिक मरीज के फेफड़े ने काम करना बंद कर दिया था. उसे वेंटीलेटर सपोर्ट पर भी रखा गया था, लेकिन जान नहीं बचाई जा सकी. बता दें ,मृतक आर्किटेक्ट में 1 मई को संक्रमण की पुष्टि हुई थी.

परिवार के चार लोग भी हैं संक्रमित

बता दें मृतक की पत्नी भी संक्रमित है और उसका इलाज भी एसआरएन अस्पताल में चल रहा है. जानकारी के मुताबिक आर्किटेक्ट राहत सामग्री बांटने के दौरान संक्रमित हुआ था. नोडल अधिकारी डॉ ऋषि सहाय ने आर्किटेक्ट के निधन की पुष्टि की है. इससे पहले मंगलवार को आई रिपोर्ट में मृतक का छोटा भाई, दूसरे भाई की पत्नी और सास भी पॉजिटिव पाए गए. वर्तमान में परिवार के चार लोगों का इलाज चल रहा है.



गौरतलब है कि मंगलवार को आरेंज जोन में शामिल प्रयागराज में कुल पांच नए मामले सामने आए. नवाबगंज और कौड़िहार में दो कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले. प्रयागराज में कोरोना पाज़िटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 15 हो गई. प्रयागराज में कोरोना पाज़िटिव के 13मामले अब एक्टिव हैं. एक पॉजिटिव जमाती की रिपोर्ट निगेटिव आने पर उसे डिस्चार्ज किया जा चुका है जबकि एक मरीज की मौत हो गई.
आज से खुलेंगी अदालतें

कोरोना वायरस की वजह से हुए लॉकडाउन में अदालतों के कामकाज भी रोक दिए गए थे. लेकिन अब जबकि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने लॉकडाउन की पाबंदियों में छूट दे दी है, निचली अदालतों में काम शुरू करने की कवायद तेज कर दी गई है. इस क्रम में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने प्रदेश की निचली अदालतों में कामकाज शुरू कराने का आदेश दिया है. हालांकि हाईकोर्ट ने इसके लिए दिशा-निर्देश भी जारी किए हैं. इलाहाबाद हाईकोर्ट ने निचली अदालतों में बंद पड़े कामकाज शुरू करने की तारीख 8 मई तय की है. इसके मुताबिक 8 मई से ग्रीन और ऑरेंज जोन के तहत आने वाली अदालतों में कामकाज शुरू होगा. हालांकि, रेड जोन में आने वाली अदालतों को हाईकोर्ट ने अपने फैसले से बाहर रखा है. फिलहाल रेड जोन में आने वाली अदालतों में पूर्व की भांति अतिआवश्यक मुकदमों की ही सुनवाई होगी.

ये भी पढ़ें:

ट्रैक्टर खड़ा करने को लेकर दो गुटों में खूनी संघर्ष, बुजुर्ग की पीट-पीटकर हत्या

SN मेडिकल कॉलेज में सामने आई रूह कंपाने वाली घटना, महिला का पैर चूहों ने कुतरा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज