Home /News /uttar-pradesh /

प्रयागराज कुंभ 2019: किन्नर अखाड़े की पेशवाई और शाही स्नान को लेकर मचा कोहराम

प्रयागराज कुंभ 2019: किन्नर अखाड़े की पेशवाई और शाही स्नान को लेकर मचा कोहराम

किन्नर अखाड़े के आचार्य महामंडलेश्वर लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी ने प्रयागराज में किया भूमि पूजन

किन्नर अखाड़े के आचार्य महामंडलेश्वर लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी ने प्रयागराज में किया भूमि पूजन

किन्नर अखाड़े के आचार्य महामंडलेश्वर लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी के मुताबिक 6 जनवरी को किन्नर अखाड़ा देवत्व यात्रा के साथ कुंभ मेला क्षेत्र में बनाये गए अपने शिविर में प्रवेश करेगा.

    प्रयागराज में अगले साल लगने वाले कुंभ मेले में किन्नर अखाड़े ने भूमि पूजन के साथ ही अपनी उपस्थिति दर्ज करा दी है. लेकिन किन्नर अखाड़े द्वारा पेशवाई निकाले जाने और शाही स्नान को लेकर अब कोहराम मच गया है. अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने किन्नर अखाड़े की पेशवाई और शाही स्नान के विरोध का एलान कर दिया है.

    उज्जैन में हुए सिंहस्थ कुंभ में स्थापित हुए किन्नर अखाड़े ने भी प्रयागराज के कुंभ मेले में दस्तक दे दी है. किन्नर अखाड़े ने भूमि पूजन के बाद अब पेशवाई निकालने की तैयारी शुरु कर दी है. किन्नर अखाड़े के आचार्य महामंडलेश्वर लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी के मुताबिक 6 जनवरी को किन्नर अखाड़ा देवत्व यात्रा के साथ कुंभ मेला क्षेत्र में बनाये गए अपने शिविर में प्रवेश करेगा. इसके साथ ही किन्नर अखाड़े के संत स्नान पर्वों पर अमृत स्नान भी करेंगे. उन्होंने किन्नर अखाड़े की पेशवाई और अन्य कार्यक्रमों में लोगों को भी आमन्त्रित किया है.

    प्रयागराज पहुंचे गोल्डन बाबा का दावा, कुंभ मेले पर दिखेगा 'नोटबंदी' का असर

    उधर किन्नर अखाड़े के पेशवाई और शाही स्नान को परम्परा के खिलाफ बताते हुए अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद महंत नरेन्द्र गिरी ने विरोध किया है. उन्होंने कहा है कि किन्नर अखाड़े का कोई वजूद ही नहीं हैं. महंत नरेन्द्र गिरी ने कहा है कि किन्नरों को जमीन भी संस्था के नाम पर दी गई है. उन्होंने कहा है कि सनातन परम्परा में 13 अखाड़ों को ही मान्यता है, इसलिए किन्नर अखाड़ा को भी किसी तरह की कोई मान्यता नहीं मिली हुई है. उन्होंने कहा है कि किन्नर स्नान और जुलूस को निकाल सकते हैं. लेकिन पेशवाई और शाही स्नान नहीं कर सकते हैं.

    शंकराचार्य ने किया गिरिराज पर तीखा प्रहार, कहा-देश में विद्वेष फैलाने की कोशिश

    बहरहाल,पहली बार कुंभ में शिरकत करने आये किन्नर अखाड़े की पेशवाई यानि देवत्व यात्रा और शाही स्नान यानि अमृत स्नान को लेकर भी विवाद गहरा सकता है. ऐसे में अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद और किन्नरों के बीच यदि कोई सुलह नहीं होती है तो मेला प्रशासन के लिए भी यह बड़ी चुनौती साबित होगी.

    ये भी पढ़ें: 

    UPSSSC की परीक्षा में फर्जीवाड़ा करने वाले गैंग के 2 और सदस्य पकड़े गए

    अयोध्या: क्या दो बाहुबली नेताओं में वर्चस्व की जंग ने ली ठेकेदार सोनू सिंह की जान?

    GST पर बोले पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा- जब रेट फिक्स किया था तो दिमाग कहां था?

    आपके शहर से (इलाहाबाद)

    इलाहाबाद
    इलाहाबाद

    Tags: Allahabad Kumbh Mela, Allahabad news

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर