लाइव टीवी

प्रयागराज: माघ मेले में नहीं होगी शराबी पुलिसकर्मी की तैनाती

Sarvesh Dubey | News18 Uttar Pradesh
Updated: November 29, 2019, 1:34 PM IST
प्रयागराज: माघ मेले में नहीं होगी शराबी पुलिसकर्मी की तैनाती
माघ मेला में तैनात होंगे ट्रेंड पुलिसकर्मी

मेला ड्यूटी में शामिल किए जाने वाले पुलिसकर्मियों में बड़ी तादाद में ऐसे पुलिस कर्मियों को भी शामिल किया जा रहा है, जो पहले माघ मेले या फिर कुम्भ मेले में ड्यूटी किए हों.

  • Share this:
प्रयागराज. संगम की रेती पर 10 जनवरी से आयोजित होने जा रहे माघ मेले (Magh Mela) की सुरक्षा के लिए लगभग साढ़े तीन हजार पुलिसकर्मियों (Policemen) को तैनात किया जाएगा. लेकिन खास बात ये है कि माघ मेले की सुरक्षा में तैनात होने वाले पुलिसकर्मी फिजिकली फिट, नॉन अल्कोहलिक होंगे और अच्छे व्यवहार वाले होंगे. इसके साथ ही मेले में आने वाले विदेशी पर्यटकों से बातचीत कर उनकी मदद कर सकें. इसलिए इंग्लिश भाषा की अच्छी समझ रखने वाले पुलिसकर्मियों को भी मेला ड्यूटी में वरीयता दी जा रही है.

पुलिसकर्मियों का चयन मेला ड्यूटी के लिए किया जा रहा

एडीजी सुजीत पाण्डेय के मुताबिक इसी आधार पर पुलिसकर्मियों का चयन मेला ड्यूटी के लिए किया जा रहा है. इसके साथ ही मेला ड्यूटी करने वाले पुलिसकर्मियों की मेले के प्रति आस्था और श्रद्धा होना भी जरुरी है, ताकि वे मेले में आने वाले महिला और बुजुर्ग श्रद्धालुओं के साथ ही साथ साधु-संतों के गाइड और फेलिसिटेटर के रुप में भी काम कर सकें. मेला ड्यूटी में शामिल किए जाने वाले पुलिसकर्मियों में बड़ी तादाद में ऐसे पुलिस कर्मियों को भी शामिल किया जा रहा है, जो पहले माघ मेले या फिर कुम्भ मेले में ड्यूटी किए हों. इससे जहां पुलिस महकमे को उनके अनुभवों का लाभ मिलेगा. वहीं पहली बार मेला ड्यूटी करने आए पुलिसकर्मियों को भी उनसे बहुत कुछ सीखने और समझने को मिलेगा. दस जनवरी से 21 फरवरी तक चलने वाले माघ मेले के लिए बड़ी तादाद में पुलिस फोर्स बाहरी जिलों से बुलायी जा रही है.
मेला ड्यूटी पर आने वाले इन पुलिसकर्मियों को खास ट्रेनिंग की भी व्यवस्था की जा रही है.

पुलिसकर्मियों को कई चरणों में ट्रेनिंग दी जाएगी

एडीजी प्रयागराज जोन सुजीत पाण्डेय के मुताबिक एक दिसंबर से मेला ड्यूटी में आ रहे पुलिसकर्मियों को कई चरणों में ट्रेनिंग दी जाएगी. जिसमें उन्हें मेले की भौगोलिक स्थिति के साथ ही साथ मेले में स्वास्थ्य सुविधाओं, ट्रैफिक की जानकारी और मेले में आने वाले श्रद्धालुओं और साधु-संतों से कैसे व्यवहार करना है, इसकी ट्रेनिंग दी जाएगी. गौरतलब है कि इस बार मिनि कुंभ की तर्ज पर आयोजित हो रहे माघ मेले में 13 पुलिस थाने और 40 पुलिस चौकियां बनायी जा रही हैं. इतने ही फायर स्टेशन भी बनाये जा रहे हैं. मेले की सुरक्षा के लिए सीसीटीवी कैमरे और जगह-जगह वॉच टावर भी बनाये जाएंगे. इसके साथ ही ड्रोन कैमरे से भी मेले पर नजर रखी जाएगी. मेले में बनाये गए स्नान घाटों पर पर्याप्त संख्या में जल पुलिस, नावें और गोताखोर भी तैनात किए जाएंगे.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इलाहाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 29, 2019, 12:05 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...