अपना शहर चुनें

States

शबनम की दया याचिका खारिज होने के बाद प्रेमी सलीम भी कर रहा राष्ट्रपति के फैसले का इंतजार

शबनम के प्रेमी सलीम को भी इंतजार है राष्ट्रपति के फैसले का
शबनम के प्रेमी सलीम को भी इंतजार है राष्ट्रपति के फैसले का

Shabnam and Saleem Execution: अमरोहा में मां-बाप समेत 7 लोगों की हत्या की दोषी शबनम के साथ-साथ उसके प्रेमी सलीम को भी मिली है मौत की सजा. प्रयागराज के नैनी सेंट्रल जेल में बंद है सलीम.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 21, 2021, 8:44 AM IST
  • Share this:
प्रयागराज. यूपी के अमरोहा जनपद के बावनखेड़ी गांव हत्याकांड (Bawankhedi Murder Case) में मौत की सजा पाए प्रेमी युगल शबनम और सलीम (Shabnam and Saleem) को फांसी देने की तैयारी चल रही है. प्रेमी संग मिलकर अपने ही परिवार के सात लोगों को मौत के घाट उतारने वाली शबनम की दया याचिका को राष्ट्रपति ने पहले ही ख़ारिज कर दिया है. अगर सब कुछ ठीक रहा तो डेथ वारंट जारी होने के बाद शबनम को मथुरा जेल स्थित महिला फांसी घर में सजा-ए-मौत दी जाएगी. शबनम के साथ इसी हत्याकांड में मौत की सजा पाने वाला उसके प्रेमी सलीम ने भी राष्ट्रपति के पास दया याचिका दाखिल की है. वह भी फैसले का बेसब्री से इंतजार कर रहा है.

सलीम पिछले तीन साल से प्रयागराज के नैनी स्थित सेंट्रल जेल के हाई सिक्योरिटी सेल में बंद है. सलीम को 27 सितंबर 2018 को बरेली सेंट्रल जेल से नैनी जेल लाया गया था. इस सनसनीखेज हत्याकांड में निचली अदालत ने 2009 में शबनम और सलीम को फांसी की सजा सुनाई थी. जिसके खिलाफ दोनों ने पहले हाई कोर्ट, फिर सुप्रीम कोर्ट में अपील की थी, लेकिन कहीं से भी राहत नहीं मिली. 2020 में सुप्रीम कोर्ट ने दोनों की पुनर्विचार याचिका भी खारिज कर दी. इसके बाद राष्ट्रपति के पास दोनों ने दया याचिका डाली. राष्ट्रपति ने शबनम की दया याचिका को ख़ारिज कर दिया है, जबकि सलीम को अपनी  इंतजार है.

शबनम की फांसी की तैयारी शुरू
राष्ट्रपति द्वारा दया याचिका ख़ारिज होने के बाद रामपुर जेल में बंद शबनम को फांसी देने की तैयारी शुरू हो गई है. मथुरा स्थित फांसी घर में साफ़-सफाई, लीवर और तख़्त को ठीक करने का काम किया जा रहा है. साथ ही बक्सर जेल को फंदे का आर्डर भी दे दिया गया है. साथ ही मेरठ का पवन जल्लाद दो बार मथुरा जेल का दौरा भी कर चुका है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज