Assembly Banner 2021

प्रयागराज: मुन्ना बजरंगी और दिलीप मिश्रा गैंग के दो शार्प शूटर मुठभेड़ में ढेर, डिप्टी जेलर की हत्या में थे आरोपी

प्रयागराज मुठभेड़ में दो इनामी शूटर्स डगर

प्रयागराज मुठभेड़ में दो इनामी शूटर्स डगर

Prayagraj Encounter: एसटीएफ के साथ हुई मुठभेड़ में पचास हजार के इनामी वकील पाण्डेय उर्फ राजीव पाण्डेय उर्फ राजू और उसका साथी शार्प शूटर एचएस अमजद उर्फ अंगद उर्फ पिंटू को मारा गिराया गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 4, 2021, 10:09 AM IST
  • Share this:
प्रयागराज. माफिया मुन्ना बजरंगी (Mafia Munna Bajrangi) और दिलीप मिश्रा गैंग (Dileep Mishra Gang) के दो शार्प शूटर्स को एसटीएफ (STF) की प्रयागराज यूनिट (Prayagraj) ने मुठभेड़ (Encounter) में ढेर कर दिया. एसटीएफ के साथ हुई मुठभेड़ में पचास हजार के इनामी वकील पाण्डेय उर्फ राजीव पाण्डेय उर्फ राजू और उसका साथी शार्प शूटर एचएस अमजद उर्फ अंगद उर्फ पिंटू को मारा गिराया गया. प्रयागराज के नैनी थाना क्षेत्र के अरैल इलाके में यह मुठभेड़ हुई. दोनों के कब्जे से नाइन एमएम पिस्टल की 30 जिंदा कारतूस व खोखा बरामद हुआ है.

दोनों पर वर्ष 2013 में हुए वाराणसी के डिप्टी जेलर अनिल कुमार त्यागी की हत्या का आरोप था. माफिया मुख्तार अंसारी और मुन्ना बजरंगी के इशारे पर दोनों ने यह हत्या की थी. मुठभेड़ में ढ़ेर दोनों बदमाशों का लंबा आपराधिक इतिहास भी है. पिछले वर्ष भदोही के बाहुबली विधायक विजय मिश्रा ने भी राजीव पाण्डेय से खुद की जान का खतरा बताया था.

Youtube Video




किसी की हत्या के फिराक में थे दोनों
सीओ एसटीएफ नवेंदु ने जानकारी देते हुए बताया कि दोनों बदमाश प्रयागराज वारदात को अंजाम देने की फ़िराक में थे. मुखबिर से जब इसकी सूचना मिली तो एसटीएफ ने उनकी घेराबंदी की. अरैल इलाके में एसटीएफ की घेराबंदी को देखकर उन्होंने फायरिंग कर दी. इसके बाद जवाबी फायरिंग में दोनों को मार गिराया गया. उन्होंने बताया कि दोनों ने रांची के किसी जेल के अधिकारी को मारने की सुपारी ली थी. प्रयागराज में वे किसी राजनीतिक या संभ्रांत व्यक्ति की हत्या करने के लिए पहुंचे थे. मुठभेड़ को लेकर एसटीएफ लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस भी करेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज