ऑक्सीजन प्लांट के उद्घाटन में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी की फिसली जुबान

नितिन गडकरी अपने भाषण की पहली लाइन में ही जुबान फिसलने से गलत बोल गए.  दुख जताने के बजाय वो खुशी शब्द बोल गए (फाइल फोटो)

नितिन गडकरी अपने भाषण की पहली लाइन में ही जुबान फिसलने से गलत बोल गए. दुख जताने के बजाय वो खुशी शब्द बोल गए (फाइल फोटो)

प्रयागराज (Prayagraj) में एक ऑक्सीजन प्लांट के वर्चुअल उद्घाटन कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने कहा कि सभी जिलों को ऑक्सीजन के मामले में आत्मनिर्भर होना होगा.

  • Share this:

प्रयागराज. नेताओं और मंत्रियों की कई बार जुबान फिसल जाती है, वो बोलना कुछ चाहते हैं लेकिन उनके मुंह से कुछ और बात निकल जाती है. इस बार यह केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) के साथ हुआ है. बुधवार को उत्तर प्रदेश के प्रयागराज (Prayagraj) में एक ऑक्सीजन प्लांट (Oxygen Plant) के वर्चुअल उद्घाटन कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी की जुबान फिसल गई. गडकरी ने अपने संबोधन में कहा, 'मुझे बहुत खुशी है कि कोरोना काल में ऑक्सीजन की कमी से देश के तमाम लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है...' हालांकि केंद्रीय मंत्री को तुरंत अपनी गलती का अहसास हुआ और उन्होंने इसे सुधार लिया.

जैसे ही गडकरी को अपनी भूल का एहसास हुआ उन्होंने संभलते हुए कहा कि हवा से ऑक्सीजन बनाने की तकनीक है. उन्होंने कहा कि कोरोना में अनुभव हुआ कि किसी को तीन से चार लीटर, तो किसी को तीन मिनट में 20 लीटर ऑक्सीजन की जरूरत होती है. ऐसे में सभी जिलों को ऑक्सीजन के मामले में आत्मनिर्भर होना होगा.

यह ऑक्सीजन प्लांट प्रयागराज के नैनी इलाके की हाईटेक सिटी में शुरू हो रहा है. इस कार्यक्रम में यूपी के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह और महेंद्र नाथ सिंह भी मौजूद थे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज