Home /News /uttar-pradesh /

prayagraj violence 25 thousand reward on each 5 accused with political connections absconding in ruckus nodss

प्रयागराज हिंसाः जुमे की नमाज के बाद हुए बवाल में फरार राजनीतिक कनेक्‍शन वाले 5 आरोपियों पर 25-25 हजार इनाम

प्रयागराज हिंसा के पांच नामजद आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने कोर्ट से गैर जमानती वारंट जारी करवा लिया है. (फाइल फोटो)

प्रयागराज हिंसा के पांच नामजद आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने कोर्ट से गैर जमानती वारंट जारी करवा लिया है. (फाइल फोटो)

नामजद आरोपियों में आरोपी मुस्लिम स्कॉलर उमर खालिद, करेली से सपा पार्षद फजल खां, वामपंथी नेता डॉ आशीष मित्तल, एआईएमआईएम के नेता शानदार मानी और जिला अध्यक्ष मोहम्मद शाह आलम शामिल हैं.

प्रयागराज. संगम नगरी प्रयागराज में 10 जून को जुमे की नमाज के बाद अटाला में हुई हिंसा और बवाल के मामले में आरोपियों के खिलाफ पुलिस का शिकंजा लगातार कसता जा रहा है. एसएसपी प्रयागराज अजय कुमार ने फरार चल रहे पॉलिटिकल कनेक्शन वाले पांच नामजद आरोपियों के खिलाफ 25-25 हजार के इनाम की घोषणा की है. एसएसपी ने नामजद आरोपी मुस्लिम स्कॉलर उमर खालिद, करेली से सपा पार्षद फजल खां, वामपंथी नेता डॉ आशीष मित्तल, एआईएमआईएम के नेता शानदार मानी और जिला अध्यक्ष मोहम्मद शाह आलम पर भी 25-25 हजार का इनाम घोषित किया गया है.

पांचों आरोपियों के खिलाफ हिंसा भड़काने के आरोप में खुल्दाबाद थाने में नामजद मामला दर्ज है. मुकदमा दर्ज होने के बाद से ही पांचों आरोपी फरार हैं. जिनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने पहले ही कोर्ट से गैर जमानती वारंट जारी करा लिया है. पुलिस अब इन अभियुक्तों पर इनामी राशि घोषित करने के बाद आरोपियों के घरों पर मुनादी कराएगी और कोर्ट से आदेश लेकर कुर्की की कार्रवाई भी करेगी.

गौरतलब है कि 10 जून को जुमे की नमाज के बाद अटाला में हुई हिंसा को लेकर पुलिस ने करेली थाने में एक और खुल्दाबाद थाने में दो एफआईआर दर्ज हुई थीं. जिसमें 80 से ज्यादा लोगों को नामजद और 5000 से ज्यादा अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था. पुलिस ने खुल्दाबाद थाने में कई गंभीर धाराओं में मामला दर्ज किया और अपराधियों की धरपकड़ में लग गई थी.

उल्लेखनीय है कि प्रयागराज हिंसा के मामले में अब तक मास्टरमाइंड जावेद मोहम्मद उर्फ जावेद पंप के साथ ही 105 अभियुक्तों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है. जिसमें 7 नाबालिग भी शामिल हैं. जिन्हें बाल संप्रेषण गृह भेजा गया है. इसके साथ ही साथ पुलिस सीसीटीवी फुटेज व अन्य वीडियो के आधार पर 59 संदिग्धों के पोस्टर जारी किए हैं. जिसके आधार पर भी लगातार अभियुक्तों की पहचान कर उनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है. इस मामले में हिंसा से हुए नुकसान की भरपाई उपद्रवियों से कराने के लिए पुलिस और निगम नगर निगम की ओर से क्लेम कमिश्नर के यहां दावा ठोंक रखा है.

Tags: Prayagraj Violence, UP news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर