होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Prayagraj News : तीन पीढ़ियों से कायम है इस चाट की दुकान की बादशाहत, एक पत्ते के लिए लोग करते हैं इंतजार

Prayagraj News : तीन पीढ़ियों से कायम है इस चाट की दुकान की बादशाहत, एक पत्ते के लिए लोग करते हैं इंतजार

दुकान अपने अलग-अलग पकवानों के लिए प्रसिद्ध है. किसी को पंडित जी की चाट पसंद है, तो किसी को फुलकी (गोलगप्पे). कोई यहांं ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट – अमित सिंह

प्रयागराज : वैसे तो प्रयागराज में स्वाद के शौकीनों के लिए कई चटकारेदार प्रसिद्व दुकानें हैं, लेकिन “पंडित जी की चाट ” का अपना ही क्रेज है. इलाहबाद विश्वविद्यालय महिला छात्रावास कर्नलगंज सलोरी छोटा बघाड़ा आदि इलाके के छात्र-छात्राएं पंडित जी की चाट खाने के लिए अधिकतर आते हैं. पंडित जी की चाट की दुकान की सबसे खास बात है साफ सफाई का सबसे ज्यादा ध्यान रखते हैं और न्यूनतम मसालों का उपयोग करते हैं. जिससे ग्राहक को पाचन संबंधी किसी प्रकार की कोई दिक्कत ना हो सके. भीड़ अधिक होने के कारण यहां एक पत्ता चाट के लिए घण्टों इंतज़ार करना पड़ता है.

दुकान अपने अलग-अलग पकवानों के लिए प्रसिद्ध है. किसी को पंडित जी की चाट पसंद है, तो किसी को फुलकी (गोलगप्पे). कोई यहांं दूर से पकौड़ा खाने आता है, तो कोई दही भल्ले (दही बड़े) लोगों की भीड़ को देखते हुए यहांं टोकन की व्यवस्था चलती है. यहांं आलू की चाट, पालक चाट, सकौड़ा, दही भल्ले, गोलगप्पे, गुलाब जामुन खाने लोग दूर-दूर के शहर से आते हैं. अगर आप भी इलाहाबादी हैं या फिर यहां आने को सोच रहे हैं तो पंडित जी की चाट का चटकारा जरूर ले.

आपके शहर से (इलाहाबाद)

इलाहाबाद
इलाहाबाद

तीन पीढ़ियों से कायम है स्वाद की बादशाहत

संगम नगरी में इंडियन प्रेस चौराहे के पास स्थित है. “पंडित जी की चाट” की पुरानी दुकान है, जो किसी परिचय की मोहताज नही है. जो तीन पीढ़ियों से लोगों की जुबान पर चढ़ी हुई है. पूरे प्रयागराज में जब भी किसी से स्वादिष्ट चाट की बात करेंगे तो चाट के शौकीन लोगों की जुबां पर सबसे पहला नाम पण्डित जी की चाट की दुकान का ही आता है. क्या बूढ़े, क्या महिलाएं और युवा वर्ग समेत सभी लोग आप को इस दुकान में लाइन लगाए नजर आ जाएंगे? कतारों में लगकर लोगों को अपनी बारी का इतंजार करने के बाद ही चाट खाने को मिलती है.यह दुकान तीन पीढ़ियों से चल रही है. इस दुकान में दोपहर 2:00 बजे से शाम 7:00 बजे तक लोगों की भारी भीड़ रहती है.

Tags: Allahabad news, Uttarpradesh news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें