लाइव टीवी

पुष्पेंद्र यादव एनकाउंटर केस: पत्नी की याचिका पर हाईकोर्ट ने यूपी सरकार से मांगा जवाब

News18 Uttar Pradesh
Updated: November 7, 2019, 6:31 PM IST
पुष्पेंद्र यादव एनकाउंटर केस: पत्नी की याचिका पर हाईकोर्ट ने यूपी सरकार से मांगा जवाब
इलाहाबाद हाईकोर्ट (फ़ाइल फोटो )

पुष्पेंद्र की पत्नी शिवांगी ने इस एनकाउंटर को फर्जी बताते हुए इस मामले की सीबीआई (CBI) से निष्पक्ष जांच कराए जाने की मांग कर रही हैं. शिवांगी की याचिका में एसएसपी झांसी ओपी सिंह (SSP OP Singh) के साथ प्रमुख सचिव गृह (Principal Secretary Home) और डीजीपी (DGP UP Police) को भी पक्षकार बनाया गया है.

  • Share this:
प्रयागराज. झांसी के बहुचर्चित पुष्पेंद्र यादव पुलिस एनकाउंटरमामले में सीबीआई जांच की मांग को लेकर दाखिल याचिका पर हाईकोर्ट ने यूपी सरकार से जवाब तलब किया है. कोर्ट ने एसएसपी झांसी ओपी सिंह से पूरे प्रकरण पर व्यक्तिगत हलफनामा भी मांगा है. कोर्ट ने एसएसपी को 26 नवम्बर तक हलफनामा अदालत में पेश करने का आदेश दिया है. गौरतलब है कि इस एनकाउंटर को लेकर समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने योगी सरकार की क़ानून-व्यवस्था पर गंभीर सवाल उठाए थे तो वहीं उत्तर प्रदेश सीएम योगी आदित्यनाथ ने पुष्पेंद्र यादव को कथित तौर पर अपराधी बताया था.

हत्या का आरोप
बता दें कि पुलिस इनकाउंटर में मारे गए पुष्पेंद्र की पत्नी शिवांगी ने हाईकोर्ट को दी याचिका में आरोप लगाया है कि इनकाउंटर करने वाले इंस्पेक्टर धर्मेन्द्र सिंह चौहान एसएसपी ओपी सिंह के करीबी रिश्तेदार हैं. जिसके चलते एसएसपी इंस्पेक्टर धर्मेन्द्र को बचाने की कोशिश कर रहे हैं. जबकि पुलिस इनकाउंटर के बाद मीडिया को दिए गए बयान में एसएसपी ओपी सिंह और इंस्पेक्टर धर्मेन्द्र के बयानों में काफी विरोधाभास है. शिवांगी यादव ने याचिका में यह भी आरोप लगाया है कि उनके पति पुष्पेंद्र यादव की पुलिस ने हत्या कर दी है. शिवांगी ने पुष्पेंद्र एनकाउंटर को फर्जी बताते हुए इस मामले की सीबीआई से निष्पक्ष जांच कराए जाने की मांग की है. शिवांगी की याचिका में एसएसपी झांसी ओपी सिंह के साथ प्रमुख सचिव गृह और डीजीपी को भी पक्षकार बनाया है.

हाईकोर्ट में जस्टिस नाहीद मोनीस आरा और जस्टिस अनिल कुमार की खंडपीठ इस मामले की सुनवाई कर रही है. मामले की अगली सुनवाई 26 नवम्बर को इलाहाबाद हाईकोर्ट में होगी. गौरतलब है कि इस मामले में सीएम योगी ने जहां पुष्पेंद्र यादव को कथित अपराधी बताया था वहीं पुलिस ने इस इनकाउंटर को सही बताया था. जबकि सपा सहित कई विरोधी दल पुष्पेंद्र यादव एनकाउंटर को लेकर योगी सरकार पर सवाल खड़े कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें - गोरखपुर: अयोध्या केस के मद्देनजर इंडो-नेपाल बॉर्डर पर बढ़ाई गई सुरक्षा


रायबरेली: कस्तूरबा आवासीय विद्यालय की वार्डन का वीडियो वायरल, छात्राओं से करवाती हैं हेड मसाज

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इलाहाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 7, 2019, 6:24 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...