• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • राम मंदिर: मोदी के बयान से बैकफुट पर VHP, कहा-धर्म संसद में तय होगी आगे की रणनीति

राम मंदिर: मोदी के बयान से बैकफुट पर VHP, कहा-धर्म संसद में तय होगी आगे की रणनीति

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के मुद्दे पर पीएम नरेन्द्र मोदी के बयान से विश्व हिन्दू परिषद पशोपेश में है. मोदी के बयान से बैकफुट पर आई वीएचपी ने इस मामले में गेंद अब साधू-संतों के पाले में डाल दी है.

  • Share this:
    अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान से विश्व हिन्दू परिषद पसोपेश में है. प्रधानमंत्री के बयान से बैकफुट पर आई वीएचपी ने इस मामले में गेंद अब साधू-संतों के पाले में डाल दी है. वीएचपी का कहना है राम मंदिर पर अब आगे की रणनीति कुंभ मेले में 31 जनवरी व 1 फरवरी को होने वाली धर्म संसद में तय की जाएगी. इस धर्म संसद में राम मंदिर मुद्दे पर संतों से उनकी राय जानी जाएगी. संत जो भी फैसला लेंगे, वह वीएचपी को मंजूर होगा.

    इस बारे में वीएचपी के राष्ट्रीय संगठन मंत्री विनायक राव जी का कहना है कि पीएम मोदी का बयान उम्मीदों के मुताबिक़ नहीं है, लेकिन वीएचपी में इससे निराशा नहीं है, बल्कि अब भी आशा बची हुई है कि पीएम मोदी कोई न कोई कदम ज़रूर उठाएंगे. चुनाव से पहले मंदिर निर्माण का रास्ता साफ़ हो जाएगा.

    ये भी पढ़ें: धर्म संसद पर शंकराचार्य का तंज, कहा-राजनीतिक फायदे के लिए अयोध्या और राम का इस्तेमाल करना चाहते हैं लोग

    गौरतलब है कि धर्म संसद में संघ प्रमुख मोहन भागवत और यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहेंगे. लिहाजा यह धर्म संसद बेहद अहम रहेगी. पीएम का बयान आने के बाद बेचैन वीएचपी पदाधिकारियों ने प्रयागराज में होने वाली धर्म संसद की तैयारियां और तेज कर दी हैं. कुंभ मेले में वीएचपी के पंडाल में ही धर्म संसद होनी है. पीएम का बयान आने के बाद से वीएचपी के पदाधिकारियों में निराशा है, लेकिन वह निराशा को जाहिर नहीं करना चाहते हैं.

    पदाधिकारी भले ही पशोपेश में हों, लेकिन वीएचपी से जुड़े संत कतई देरी बर्दाश्त करने के मूड में नहीं हैं. वीएचपी से जुड़े संतों का कहना है कि अगर मोदी सरकार को राम भक्तों की भावनाओं का ख्याल नहीं है, तो उसे लोकसभा चुनाव में अंजाम भुगतने की तैयारी कर लेनी चाहिए. (रिपोर्ट-सर्वेश दुबे)

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज