योगी के मंत्री की फिसली जुबान, कहा- यूपी के अपराधियों में खाकी का खौफ नहीं

प्रयागराज में बढ़ रहे अपराध पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि खाकी को देखकर अपराधियों और माफियाओं के मन में खौफ होना चाहिए, जो कि अब नहीं रह गया है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 6, 2019, 6:54 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 6, 2019, 6:54 PM IST
राज्य सरकार के प्रवक्ता और सूबे के स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने शनिवार को एक बार फिर से विवादित बयान दिया है. प्रयागराज में बढ़ रहे अपराध पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि खाकी को देखकर लोगों के मन में खौफ होना चाहिए, जो कि अब नहीं रह गया है. स्वास्थ्य मंत्री यहीं नहीं रुके, उन्होंने आगे कहा कि जिले में बढ़ रहे अपराध को लेकर उन्होंने एसएसपी से बात की है और उन्हें कार्रवाई करने के लिए सख्त ऩिर्देश भी दिए हैं.

हालांकि बाद में उन्हें जब अपने गलत बोलने का अहसास हुआ तो उन्होंने खाकी को देखकर क्रिमिनल और माफियाओं के अन्दर भय नहीं होने की बात कही. योगी आदित्यनाथ सरकार के मंत्री जी से बड़ा सवाल यही है कि आखिर खाकी वर्दीधारी पुलिस को देखकर आम आदमी में भय और खौफ क्यों होना चाहिए?

घायल पार्षद का हालचाल लेने गए थे अस्पताल
दरअसल सिद्धार्थ नाथ सिंह शनिवार को एसआरएन अस्पताल में बम के हमले में घायल पार्षद शिव कुमार और उनके भतीजे मनीष का हालचाल लेने पहुंचे थे. शुक्रवार देर शाम पार्षद शिव कुमार पर धूमनगंज थाना क्षेत्र में बम और गोली चलाकर जानलेवा हमला किया गया था. मीडिया से मुखातिब स्वास्थ्य मंत्री ने जिले की बिगड़ती कानून व्यवस्था पर कहा है कि पुलिस और सरकार को कड़ी कार्रवाई करनी पड़ेगी. सिद्धार्थ नाथ सिंह यहीं नहीं रुके, उन्होंने पुलिस कर्मियों को चेतावनी देते हुए कहा है कि योगी सरकार जीरो टालरेंस की सरकार है, इसलिए गलत कार्य करने वाले पुलिसकर्मी बक्शे नहीं जाएंगे.

सीसीटीवी में कैद हो गई पार्षद पर हमले की वारदात
सूबे के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या के गृह जिले प्रयागराज में अपराधी बेखौफ होकर लगातार वारदातों का अंजाम दे रहे हैं, लेकिन पुलिस अपराधियों पर शिकंजा कसने में पूरी तरह से नाकाम साबित हो रही है. ताजा मामला शुक्रवार देर रात वार्ड नम्बर चार जयंतीपुर के पार्षद शिव कुमार और उनके भतीजे मनीष पर बम से हमला किए जाने और उन पर जानलेवा फायरिंग का है. इस हमले में पार्षद और उनका भतीजा बुरी तरह से घायल हो गये हैं. दोनों का फिलहाल एसआरएन अस्पताल में इलाज चल रहा है. पार्षद पर बम से हुए जानलेवा हमले की पूरी वारदात पास में ही लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई.

बम बनाते समय युवक के उड़ गए थे दोनों हाथ
Loading...

सीसीटीवी में देखकर साफ तौर पर अंदाजा लगाया जा सकता है कि किस तरह से बेलगाम अपराधी बेखौफ होकर खाकी को चुनौती दे रहे हैं. हम आपको बता दें कि प्रयागराज में बम से हमले का ये कोई पहला मामला नहीं है. अभी जून के महीने में ही खुल्दाबाद थाना क्षेत्र में एक स्कूल में बम बनाते हुए धमाके में एक युवक के दोनों हाथों के चीथड़े उड़ गए थे, लेकिन प्रयागराज पुलिस इन वारदातों पर अंकुश नहीं लगा पा रही है.

रिपोर्ट – सर्वेश दुबे 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इलाहाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 6, 2019, 5:45 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...