UP: अब सपा के इस बाहुबली नेता की अवैध संपत्तियों पर चला सरकारी बुलडोजर

यूपी में बाहुबलियों और माफियाओं की अवैध संपंत्ति पर योगी सरकार का बुलडोजर लगातार दौड़ रहा है.
यूपी में बाहुबलियों और माफियाओं की अवैध संपंत्ति पर योगी सरकार का बुलडोजर लगातार दौड़ रहा है.

सपा के बाहुबली नेता और हिस्ट्रीशीटर राम लोचन यादव (Ram Lochan Yadav) के दो अवैध मकानों को पांच बुलडोजर लगाकर जमींदोज कर दिया गया.

  • Share this:
इलाहाबाद. संगमनगरी प्रयागराज में बड़े माफियाओं और बाहुबलियों के बाद अब दबंगों और भूमाफिया के खिलाफ योगी सरकार (Yogi Government) का एक्शन शुरू हो गया है. बाहुबली पूर्व सांसद अतीक अहमद (Atik Ahmad), पूर्व ब्लॉक प्रमुख दिलीप मिश्रा, छोटा राजन (Chhota Rajan) गैंग के शार्प शूटर राजेश यादव और निहाल कुमार उर्फ बच्चा पासी की सम्पत्तियों पर सरकारी बुलडोजर चलाने के बाद अब प्रयागराज के एक बड़े भूमाफिया के अवैध साम्राज्य को प्रयागराज विकास प्राधिकरण ने सरकारी बुलडोजर चलाकर नेस्तनाबूत कर दिया.

सरकार की इस कार्रवाई से न केवल भूमाफियों और अपराधियों की आर्थिक रूप से कमर तोड़ने की कोशिश हो रही है, बल्कि अपराध से अर्जित सम्पत्ति को भी तहस नहस की जा रही है. इसी कड़ी में सोमवार को धूमनगंज थाना क्षेत्र के कन्धईपुर इलाके में सपा के बाहुबली नेता और हिस्ट्रीशीटर राम लोचन यादव की अवैध संपत्तियों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की गई. भूमाफिया और हिस्ट्रीशीटर राम लोचन के मकान और गेस्ट हाउस को पांच बुलडोजर लगाकर जमींदोज कर दिया गया. ये अवैध निर्माण सपा शासन काल में राम लोचन यादव ने अपने रसूख के दम पर कराया था.

प्रयागराज विकास प्राधिकरण के जोनल अधिकारी सत शुक्ला के मुताबिक 1500 वर्ग मीटर में बगैर नक्शा स्वीकृत कराये गेस्ट हाउस का निर्माण कराया गया था. जिसकी जमीन सहित अनुमानित लागत करीब 12 करोड़ रुपये थी. इसके साथ ही इसी इलाके में लगभग पांच सौ वर्ग मीटर में एक आलीशान मकान भी बगैर नक्शा स्वीकृत कराये हुए बनाया गया था. जिसकी अनुमानित लागत चार करोड़ करोड़ रुपये था. दोनों इमारतों को भारी पुलिस बल की मौजूदी में ध्वस्त कर दिया गया.



राम लोचन यादव के खिलाफ धूमनगंज में कई आपराधिक मामले दर्ज हैं. वह सपा से तीन बार की विधायक रही विजमा यादव के भाई हैं. राम लोचन के बहनोई तत्कालीन सपा विधायक जवाहर पंडित की 1996 में सिविल लाइन्स में एके 47 से हत्या कर दी गई थी.
राम लोचन की अवैध सम्पत्ति पर प्रयागराज विकास प्राधिकरण, नगर निगम, जिला प्रशासन और पुलिस की संयुक्त टीम ने कार्रवाई की. इस दौरान सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये गए. मौके पर पुलिस और पीएसी के साथ ही कई मजिस्ट्रेटों की भी तैनाती की गई. हालांकि कार्रवाई का विरोध करने मौके पर सपा नेत्री ऋचा सिंह पहुंचीं. लेकिन भारी पुलिस बल की तैनाती के चलते कुछ कर नहीं पाई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज