सिर्फ चुनावी नजरिए से बीजेपी ने राम मंदिर मुद्दे को जिंदा रखा है: रामगोपाल यादव

प्रोफेसर रामगोपाल यादव
प्रोफेसर रामगोपाल यादव

उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट में मामला पेडिंग होने की वजह से राम मंदिर पर न तो कानून बन सकता है और न ही अध्यादेश लाया जा सकता है, लेकिन इसकी जानकारी होने के बावजूद बीजेपी सिर्फ चुनावी फायदे के लिए राम मंदिर की बात उठा रही है.

  • Share this:
समाजवादी पार्टी ने सोमवर को राम मंदिर को लेकर बीजेपी और मोदी सरकार पर बड़ा हमला बोला है. प्रयागराज पहुंचे सपा महासचिव प्रोफेसर रामगोपाल यादव ने बीजेपी पर भगवान राम को धोखा देने और सिर्फ उन्हें चुनावी नजरिये से जिंदा रखने का गंभीर आरोप लगाया है. प्रो राम गोपाल यादव ने कहा कि बीजेपी ने भगवान राम को वोट बैंक बनाकर रख दिया है. वह हर चुनाव से पहले मंदिर का राग अलापकर राम के नाम पर वोट ले लेती है और उसके बाद उन्हें भूल जाती है.

उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट में मामला पेडिंग होने की वजह से राम मंदिर पर न तो कानून बन सकता है और न ही अध्यादेश लाया जा सकता है, लेकिन इसकी जानकारी होने के बावजूद बीजेपी सिर्फ चुनावी फायदे के लिए राम मंदिर की बात उठा रही है. प्रयागराज में एक कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे प्रोफेसर राम गोपाल ने कहा कि राम मंदिर पर सभी को कोर्ट के फैसले का इंतजार करना चाहिए. इतना ही कोर्ट से फैसला कुछ भी आए, सभी को उस फैसले का सम्मान भी करना चाहिए.

केंद्रीय मंत्री उमा भारती द्वारा अयोध्या में मस्जिद बनने पर हिन्दुओं के असहिष्णु होने के बयान पर उन्होंने कहा कि उमा भारती को यह समझ लेना चाहिए कि अयोध्या में मस्जिद गिरने के बाद उन्होंने जिस तरह बीजेपी नेता मुरली मनोहर जोशी के कंधे पर बैठकर जश्न मनाया था, उस मुक़दमे में फैसले का भी वक्त आ गया है.



प्रोफेसर राम गोपाल के मुताबिक उमा भारती को कोई भी बयानबाजी करने से पहले यह सोचना होगा कि उन्होंने अब तक क्या-क्या कहा और किया है. सपा महासचिव ने देशवासियों को धनतेरस की बधाई देते हुए कहा कि इस पर्व का समता और सम्पन्नता का संदेश ही असली समाजवाद है.
ये भी पढ़ें:

तस्वीरों में देखिए कैसे दीपोत्सव में डूबी राम की नगरी अयोध्या

मेरठ: पत्नी और बेटी को उतारा मौत के घाट, फिर खुद कर ली खुदकुशी

IND vs WI: लखनऊ के इकाना स्टेडियम में दिवाली से पहले T20 का 'धमाका'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज