टिकटों की दलाली करने वालों पर कसेगा शिकंजा, रेलवे ने तैयार किया ये खास प्लान?

आपको बता दें कि गर्मी के सीजन में प्रयागराज आने और जाने वाली सभी ट्रेनें पैक चल रही हैं. लम्बी दूरी की सभी ट्रेनों में अगले 15 दिनों तक कोई कन्फर्म बर्थ उपलब्ध नहीं है.

News18Hindi
Updated: June 8, 2019, 10:07 AM IST
टिकटों की दलाली करने वालों पर कसेगा शिकंजा, रेलवे ने तैयार किया ये खास प्लान?
रिजर्वेशन काउंटर
News18Hindi
Updated: June 8, 2019, 10:07 AM IST
गर्मी के सीजन में लंबी दूरी की ट्रेनों में कन्फर्म टिकटों के लिए रिजर्वेशन काउंटरों पर मची मारा मारी और दलालों की सक्रियता को रोकने के लिए रेलवे ने अनोखा प्लान बनाया है. रेलवे अब इसे रोकने के लिए इलेक्ट्रानिक तरीकों का इस्तेमाल करेगी. इसी कड़ी में टिकटों की नम्बरिंग देने के लिए 'बॉयोमेट्रिक टोकेन' सिस्टम का प्रयोग किया जायेगा. नार्थ सेंट्रल रेलवे के जीएम राजीव चौधरी ने न्यूज18 से खास बातचीत में बताया कि पुलिसिंग से यदि दलालों पर रोकथाम नहीं लगती है तो इसे रोकने के लिए इलेक्ट्रानिक तरीकों का इस्तेमाल किया जायेगा. उन्होंने कहा है कि तत्काल टिकटों में दलालों की भूमिका को खत्म करने के लिए टिकटों की नम्बरिंग देने के लिए बॉयोमेट्रिक टोकेन सिस्टम का प्रयोग करके दलालों पर शिंकजा कसा जाएगा.

जीएम राजीव चौधरी के मुताबिक इसके तहत एक व्यक्ति को एक टिकट लेने के दो घंटे बाद तक दूसरा टिकट काउंटर से नहीं मिलेगा. वहीं समर स्पेशल ट्रेनों के संचालन के बावजूद यात्रियों को ट्रेनों में कन्फर्म बर्थ न मिलने को लेकर जीएम एनसीआर ने कहा है कि ट्रेनों में वेटिंग के आधार पर स्पेशल ट्रेनें चलायी जाती हैं और कुछ ट्रेनों का स्टापेज भी बढ़ा दिया जाता है.

नार्थ सेंट्रल रेलवे के जीएम राजीव चौधरी


आपको बता दें कि गर्मी के सीजन में प्रयागराज आने और जाने वाली सभी ट्रेनें पैक चल रही हैं. लम्बी दूरी की सभी ट्रेनों में अगले 15 दिनों तक कोई कन्फर्म बर्थ उपलब्ध नहीं है. जबकि रेलवे प्रशासन की ओर से नार्थ सेन्ट्रल रेलवे में ही दो दर्जन स्पेशल ट्रेनें अलग-अलग रुटों के लिए चलायी गई हैं. इसके साथ ही लम्बी दूरी की कई ट्रेनों में अतिरिक्त कोच भी लगाये गए हैं. वहीं यात्रियों को तत्काल टिकट भी नहीं मिल पा रहे हैं.

दरअसल यात्री अगले दिन के तत्काल टिकट के लिए रात से ही लाइनों में लगकर फार्म के लिए नम्बर लगाते हैं. लेकिन तत्काल का  काउंटर खुलने के 5 मिनट के अंदर सभी टिकट बुक हो जाते हैं. जिसके बाद यात्रियों को खाली हाथ निराश होकर लौटना पड़ता है. यात्रियों का आरोप है कि टिकट काउंटरों के आस-पास दलालों का जमावड़ा रहता है. जिसके चलते सभी तत्काल टिकट दलाल बुक करा लेते हैं.

पीड़ित यात्रियों की फोटो


हालत ये है कि कई यात्री पिछले कई दिनों से इलाहाबाद जंक्शन स्टेशन पर अपने परिवार के साथ तत्काल टिकट के इंतजार में पड़े हुए हैं. इलाहाबाद से सूरत, मुम्बई, चेन्नई, बंगलौर, हैदराबाद, कोलकाता, गुवाहाटी की ओर जाने वाले सभी ट्रेनों में यात्रियों को तत्काल टिकट भी नहीं मिल पा रहा है. यात्रियों का कहना है कि हाल के वर्षों में रेलवे की सेवाओं में सुधार भी हुआ है. लेकिन रिजर्वेशन टिकट को लेकर स्थिति अभी भी जस की तस बनी हुई है. यात्रियों ने रिजर्वेशन काउंटरों पर तत्काल टिकट की हो रही कालाबाजारी रोकने के लिए भी रेलवे प्रशासन से कार्रवाई की मांग कर रहे है.
एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

 

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...