प्रयागराज: COVID-19 के संक्रमण को खत्म कर देगा ये Sterilizer बॉक्स, 3-10 हजार रुपये होगी कीमत
Allahabad News in Hindi

प्रयागराज: COVID-19 के संक्रमण को खत्म कर देगा ये Sterilizer बॉक्स, 3-10 हजार रुपये होगी कीमत
कोरोना के संक्रमण को खत्म कर देगा स्टेरिलाइजर बॉक्स

एमएनएनआईटी (MNNIT) के निदेशक प्रोफेसर राजीव त्रिपाठी ने गर्ग टेलीकॉम कार्पोरेशन के निदेशक रवि अग्रवाल साथ एमओयू साइन किया है. जिसके तहत इस तकनीक पर राइट्स एमएनएनआईटी का ही रहेगा.

  • Share this:
प्रयागराज. पूरा देश कोरोनावायरस (COVID-19) के खात्मे की लड़ाई में जुटा हुआ है. आम हो या खास, सभी लोग अपने-अपने तरीके से इस जंग में जिम्मेदारी निभा रहे हैं. उत्तर प्रदेश के प्रयागराज (Prayagraj) में राष्ट्रीय स्तर के एक नामचीन आईटी संस्थान मोतीलाल नेहरू नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (MNNIT) ने लोगों को कोरोना के संक्रमण से बचाने के लिए अनूठी तकनीक ईजाद की है. संस्थान ने ऐसा स्टेरेलाइजर बॉक्स तैयार किया है, जो कपड़ों, मास्क, फाइल, दूध के पैकेट और सब्जियों के साथ ही उसमें रखे गए किसी भी सामान को कुछ मिनटों में डिसइनफेक्ट यानी संक्रमित मुक्त कर देगा. इससे इन सामानों के जरिए कोरोना और दूसरे किसी तरह के वायरस के फैलने का खतरा तकरीबन खत्म हो जाएगा.

संस्थान ने यूवीसी तकनीक पर यूवी स्टेरेलॉइजर बॉक्स तैयार किया है. जिसे अब संस्थान पेटेंट भी कराने जा रहा है. इसके साथ ही कोरोना के बढ़ रहे खतरे को देखते हुए इस तकनीक को आम लोगों तक पहुंचाने के लिए संस्थान के प्रोफेसरों ने संस्थान के ही इंडस्ट्रियल स्टेट की एक फर्म के साथ करार किया है.

स्टेरिलाइजर बॉक्स
लकड़ी से बना स्टेरेलाइजर बॉक्स




स्टेरेलाइजर बॉक्स की कीमत 3-10 हजार रुपये के बीच होगी



एमएनएनआईटी के निदेशक प्रोफेसर राजीव त्रिपाठी ने गर्ग टेलीकॉम कार्पोरेशन के निदेशक रवि अग्रवाल साथ एमओयू (MoU) साइन किया है. जिसके तहत इस तकनीक पर राइट्स एमएनएनआईटी का ही रहेगा. लेकिन यूवी स्टेरेलॉइजर बॉक्स का कमर्शियल प्रोडक्शन और मार्केटिंग गर्ग टेलीकॉम कॉर्पोरेशन करेगी.

इस एमओयू के हो जाने बाद अब जल्द ही मार्केट में यूवी स्टेरेलॉइजर बॉक्स लोगों के लिए कंपनी उपलब्ध कराएगी. शुरुआत में चार डिजाइन और चार अलग-अलग साइजों में कंपनी यूवी स्टेरेलॉइजर बॉक्स लेकर बाजार में आने की तैयारी कर रही है. गर्ग टेलीकॉम कार्पोरेशन के निदेशक रवि अग्रवाल के मुताबिक इसकी शुरुआती कीमत तीन से 10 हजार रुपये तक रखी गई है. जिससे यह उपकरण आम लोगों की पहुंच में बना रहे.

बता दें कि प्रयागराज का मोतीलाल नेहरू नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी कोरोना काल में इससे बचाव को लेकर लगातार रिसर्च कर रहा है. राष्ट्रीय महत्व का ये संस्थान देश के चुनिंदा और प्रदेश का इकलौता एनआईटी है.

ये भी पढे़ं:

Lockdown 5.0: प्रवासी मजदूरों की मदद के लिए सड़क पर उतरे टीम इंडिया के क्रिकेटर मोहम्मद शमी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading