Home /News /uttar-pradesh /

tragedy king know what is the connection between late actor dilip kumar and the famous sevai of prayagraj

Tragedy King:-जानिए क्या है दिवंगत अभिनेता दिलीप कुमार और प्रयागराज की मशहूर सेवईं के बीच का कनेक्शन

X

ऐतिहासिक शहर प्रयागराज में आपको धर्म से जुड़ी, इतिहास से जुड़ी ,संस्कारों से जुड़ी, खान-पान से जुड़ी कई सारी रोचक कहानियां मिलेंगी.इन्हीं कहानियों के बीच एक कहानी चौक स्थित सेवई मंडी और ट्रेजेडी किंग के नाम से मशहूर दिवंगत अभिनेता दिलीप कुमार की है.आपको बता दें कि प्र?

अधिक पढ़ें ...

    रिपोर्ट- प्राची शर्मा, प्रयागराज

    ऐतिहासिक शहर प्रयागराज में आपको धर्म से जुड़ी, इतिहास से जुड़ी ,संस्कारों से जुड़ी, खान-पान से जुड़ी कई सारी रोचक कहानियां मिलेंगी.इन्हीं कहानियों के बीच एक कहानी चौक स्थित सेवई मंडी और ट्रेजेडी किंग के नाम से मशहूर दिवंगत अभिनेता दिलीप कुमार की है.आपको बता दें कि प्रयागराज सेवई के ब्रांड के मामले में देश दुनिया में काफी मशहूर है.इसके पीछे सबसे बड़ा कारण है दिलीप सेवईं का है.यह ब्रांड शुद्धता,स्वाद और विश्वसनीयता का प्रतीक बन गया है.एक छोटे स्तर पर शुरू हुई यह दुकान आज एक ब्रांड बन चुकी है.दुकान की शुरुआत 70 के दशक में तौसीफ साहब ने की थी. दिलचस्प बात यह है कि इस दुकान की सेवई का ज़ायका जाने-माने अभिनेता दिलीप कुमार साहब ने भी लिया था और दिलीप सेवईं कोई आम नाम नहीं बल्कि अभिनेता दिलीप कुमार से ही जुड़ा है. वैसे तो पूरी सेवईं मंडी ही सेवई और सूतफेनी के अद्भुत स्वाद के चलते लोगों को अपनी तरफ खींचती है,यहां हमेशा खरीददारों की भीड़ रहती है.खाड़ी देशों में भी यहां से सेवईं बड़े स्तर पर सप्लाई की जाती है.लेकिन आप यह कह सकते हैं कि मंडी में स्थित दिलीप सेवई की दुकान सेवई मंडी की विशिष्ट पहचान का एक बड़ा कारण है.

    जब अभिनेता दिलीप कुमार ने सेवईं का जायका लिया तो कहा वाह!
    सेवईं मंडी के रहने वाले जामी सिद्धकी बताते हैं कि दुकान 70 के दशक में एक छोटे से स्तर पर शुरू हुई थी.लेकिन आज यह एक ब्रांड बन गई है.दरअसल दुकान के मालिक तौसीफ साहब अभिनेता दिलीप कुमार से काफी प्रभावित थे,उनका कहना था कि जब एक आम आदमी थोड़े से चने लेकर मुंबई पहुंचा और देखते ही देखते अपनी मेहनत से दुनिया पर राज करने लगें तो मैं क्यों नहीं.दिलीप सेवईं के मालिक तौसीफ और अभिनेता दिलीप कुमार ने अपने जीवन के संघर्ष को एक साथ शुरू किया और दोनों ने अपने-अपने स्तर पर कामयाबी भी हासिल की.तौसीफ साहब ने एक बार दिलीप कुमार से मुलाकात की और पूछा कि क्या वह अपनी दुकान का नाम उनके नाम पर रख सकते हैं तो बड़ी ही विनम्रता के साथ दिलीप साहब ने सहमति जताई.इसके बाद तौसीफ साहब ने अपनी दुकान शुरू की और अपनी मेहनत से अपने कारोबार को अर्श से फर्श तक पहुंचा दिया.एक बार तौसीफ साहब ने अपनी सेवईं मुंबई में दिलीप कुमार को भेजवाई, फिर क्या था दिलीप कुमार ने उसे चखा और बोल पड़े -वाह !

    आपके शहर से (इलाहाबाद)

    इलाहाबाद
    इलाहाबाद

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर