Assembly Banner 2021

बैंकों में आज से दो दिवसीय देशव्यापी हड़ताल, प्रयागराज में दिखा ग्राहकों पर असर

बैंकों में आज से दो दिवसीय हड़ताल

बैंकों में आज से दो दिवसीय हड़ताल

बैंक अधिकारियों और कर्मचारियों का कहना है कि अगर उनकी मांगे नहीं मानी गयी तो वो अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जायेंगे. उनकी मांग है कि सरकार पांच दिवसीय बैंकिंग, मूल वेतन के साथ विशेष भत्तों का विलय, नई पेंशन योजना समाप्त करे.

  • Share this:
प्रयागराज. यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन्स के आह्वान पर शुक्रवार को से सरकारी बैंकों के अधिकारी और कर्मचारी दो दिन की हड़ताल पर चले गए हैं. जिसका संगम नगरी प्रयागराज में बड़ा असर देखने को मिल रहा है. बैंकों की हड़ताल के चलते एसबीआई को छोड़कर सरकारी क्षेत्र के सभी बैंक बंद हैं. कर्मचारी काम ठप कर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. बैंककर्मियों का आरोप है कि केन्द्र सरकार नवंबर 2017 से लम्बित वेतन समझौते से जुड़ी उनकी मांगों को लगातार नजर अंदाज कर रही है.

जिसके बाद अब उन्होंने सरकार से आरपार की लड़ाई का मन बनाया है. बैंक अधिकारियों और कर्मचारियों का कहना है कि अगर उनकी मांगे नहीं मानी गयी तो वो अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जायेंगे. उनकी मांग है कि सरकार पांच दिवसीय बैंकिंग, मूल वेतन के साथ विशेष भत्तों का विलय, नई पेंशन योजना समाप्त करे और पारिवारिक पेंशन में सुधार सहित सभी 12 मांगे जल्द माने.

एटीएम में भी पैसे के लिए किल्लत
एटीएम में भी पैसे के लिए किल्लत




बैंक कर्मचारियों और अधिकारियों ने मार्च में भी तीन दिन की हड़ताल की घोषणा की है. हड़ताली बैंक कर्मचारियों और अधिकारियों का कहना है कि इसके बाद भी अगर सरकार नहीं मानती है तो 11 से 13 मार्च तक तीन दिन की हड़ताल पर जायेंगे और उसके बाद एक एक अप्रैल से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जाएंगे. बैंकों की दो दिवसीय हड़ताल से अकेले प्रयागराज में दो दिनों में लगभग छह सौ करोड़ का लेन देन प्रभावित होने की संभावना है. वहीं दो दिन बैंकों की हड़ताल और उसके बाद रविवार पड़ने से लगातार तीन दिन बैंक बंद रहेंगे. जिससे एटीएम में भी पैसे के लिए किल्लत हो सकती है.
ये भी पढ़ें:

कानपुर में PFI के पांच सदस्य गिरफ्तार, CM योगी के कार्यक्रम में विरोध करने की थी तैयारी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज