UP Board: लखनऊ सहित रेड जोन के 19 जिलों में आज से शुरू होगा कॉपियों का मूल्यांकन

लॉक डाउन के बीच यूपी बोर्ड परीक्षाओं की कॉपियों को मूल्यांकन तेजी से पूरा किया जा रहा है.
लॉक डाउन के बीच यूपी बोर्ड परीक्षाओं की कॉपियों को मूल्यांकन तेजी से पूरा किया जा रहा है.

यूपी बोर्ड (UP Board) की सचिव नीना श्रीवास्तव ने बताया कि हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन ग्रीन जोन के जनपदों में 5 मई से और ऑरेंज जोन के जनपदों में 12 मई से चल रहा है.

  • Share this:
प्रयागराज. उत्तर प्रदेश में लॉकडाउन (Lockdown) के चलते एशिया की सबसे बड़ी परीक्षा संस्था यूपी बोर्ड (UP Board) की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की कॉपियों का मूल्यांकन अब तक नहीं हो पाया है. वैसे ग्रीन और ऑरेंज जोन में कॉपियों का मूल्यांकन चल रहा है. अब रेड जोन में आने वाले 19 जिलों में 19 मई से कॉपियों के मूल्यांकन का कार्य शुरू होगा, इसके लिए यूपी बोर्ड की ओर से सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं.

यूपी बोर्ड की सचिव नीना श्रीवास्तव के मुताबिक हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन ग्रीन जोन के जनपदों में 5 मई से और ऑरेंज जोन के जनपदों में 12 मई से चल रहा है. उनके मुताबिक 18 मई तक ग्रीन जोन में आने वाले 20 जिलों में स्थित मूल्यांकन केंद्रों में से 45 मूल्यांकन केंद्रों पर मूल्यांकन कार्य पूरा हो चुका है. इसी के साथ ही ऑरेंज जोन में 2 मूल्यांकन केंद्रों पर मूल्यांकन कार्य पूरा हो चुका है.

ग्रीन जोन के इन जिलों का मूल्यांकन पूरा
जनपदवार पूर्ण हुए मूल्यांकन के मुताबिक ग्रीन जोन के 10 जनपदों में मूल्यांकन कार्य पूरा हो चुका है. इस तरह से सिद्धार्थनगर, कुशीनगर, शाहजहांपुर, हाथरस, लखीमपुर खीरी, कानपुर देहात, फर्रुखाबाद, ललितपुर, महोबा और चित्रकूट जिलों में मूल्यांकन का कार्य पूरा हो गया है.
1,45,86,230 उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन पूरा


इस प्रकार ग्रीन जोन के जिलों में 96% यानी 55,18,843 उत्तर पुस्तिकाओं का और ऑरेंज जोन के जिलों में 68% यानि 90,67,387 को मिलाकर कुल 1,45,86,230 उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन कार्य पूरा हो चुका है.

कंटेनमेंट जोन में नहीं होगा मूल्यांकन
शासन के निर्देश के मुताबिक रेड जोन के जिलों में 19 मई 2020 से मूल्यांकन कार्य प्रारंभ होगा. इन जिलों के सभी मूल्यांकन केंद्रों पर मूल्यांकन कार्य कराए जाने संबंधी समस्त व्यवस्थाएं पूर्ण कर ली गई हैं. लेकिन रेड जोन के 19 जिलों के कंटेनमेंट क्षेत्रों के मूल्यांकन केंद्रों पर मूल्यांकन नहीं होगा. इसके साथ ही कंटेनमेंट क्षेत्र में रहने वाले शिक्षकों की भी ड्यूटी मूल्यांकन में नहीं लगेगी.

रेड जोन
आगरा, लखनऊ, सहारनपुर, कानपुर नगर, मुरादाबाद, फिरोजाबाद, गौतमबुद्धनगर, बुलंदशहर, मेरठ, रायबरेली, वाराणसी, बिजनौर, अमरोहा, संत कबीर नगर, अलीगढ़, मुजफ्फरनगर, रामपुर, मथुरा, बरेली.

ये भी पढ़ें:

यूपी के इन गांवों को मिलेगी 24 घंटे बिजली, ग्रामवासियों को लेना होगा जिम्मा

Covid-19: सरकारी खर्चों में कटौती करने को मजबूर हुआ UP, खत्‍म होंगे कई पद
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज