लाइव टीवी

UP Board Exam 2020: एशिया की सबसे बड़ी परीक्षा शुरू, 56 लाख से ज्यादा परीक्षार्थी शामिल
Allahabad News in Hindi

Sarvesh Dubey | News18 Uttar Pradesh
Updated: February 18, 2020, 8:47 AM IST
UP Board Exam 2020: एशिया की सबसे बड़ी परीक्षा शुरू, 56 लाख से ज्यादा परीक्षार्थी शामिल
आज से शुरू हो गई यूपी बोर्ड की परीक्षाएं

यूपी बोर्ड की सचिव ने बोर्ड परीक्षा में शामिल हो रहे सभी छात्र-छात्राओं को परीक्षा में सफलता के लिए उन्हें शुभकामनायें दी हैं.

  • Share this:
प्रयागराज. एशिया की सबसे बड़ी परीक्षा संस्था उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद यानी यूपी बोर्ड (UP Board) की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं (Exam) की शुरुआत मंगलवार से हो गई. पहले दिन हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की हिन्दी और प्रारम्भिक हिन्दी की परीक्षा आयोजित हो रही है. दो पालियों में आयोजित हो रही परीक्षा के लिए प्रदेश भर में 7784 परीक्षा केन्द्र बनाये गए हैं. पहले दिन हाईस्कूल में 7783 परीक्षा केन्द्रों पर तीस लाख चाल हजार 634 परीक्षार्थी परीक्षा में सम्मिलित हो रहे हैं. जबकि इंटरमीडिए की परीक्षा में 7725 परीक्षा केन्द्रों पर 25 लाख 18 हजार 770 परीक्षार्थी परीक्षा देंगे.

बोर्ड परीक्षा शुरु होने को लेकर यूपी बोर्ड की सचिव नीना श्रीवास्तव और दूसरे अधिकारी भी सुबह सात बजे से पहले ही यूपी बोर्ड के दफ्तर पहुंच गए. यूपी बोर्ड की सचिव ने बोर्ड परीक्षा में शामिल हो रहे सभी छात्र-छात्राओं को परीक्षा में सफलता के लिए उन्हें शुभकामनायें दी हैं. उन्होंने दावा किया है कि यूपी बोर्ड ने नकलविहीन परीक्षा कराने की सभी तैयारी पूरी कर ली है.

पहली बार परीक्षा केन्द्रों पर लगे हैं ब्राडबैंड और राउटर



गौरतलब है कि योगी सरकार में होने जा रही तीसरी बोर्ड परीक्षा में इस बार 56 लाख 7 हजार 118 परीक्षार्थी प्रदेश भर में बनाये गए 7784 परीक्षा केंद्रों पर परीक्षा देंगे. इस बार की परीक्षा में हाईस्कूल में 30 लाख 22 हजार 607 परिक्षार्थी,तो वही इंटर में 25 लाख 84 हजार 511 परीक्षार्थी पंजीकृत हुए हैं. जबकि पिछले वर्ष हाई स्कूल में 31 लाख 92 हजार 587 परीक्षार्थी और इंटर में 26 लाख तीन हजार 169 परीक्षार्थी परीक्षा में बैठे थे. इस तरह से इस साल पिछले साल की तुलना में एक लाख 88 हजार 638 परीक्षार्थी कम सम्मिलित हो रहे हैं. इस बार हाईस्कूल की परीक्षायें 12 दिन और इंटर की परीक्षायें 15 दिन तक चलेंगी.



नक़ल रोकने के लिए सख्त इंतजाम

यूपी बोर्ड की सचिव नीना श्रीवास्तव के मुताबिक यूपी बोर्ड की परीक्षाओं में नकल रोकने के लिए बोर्ड ने इस बार और सख्त कदम उठायें हैं. प्रदेश में 938 संवेदनशील और 395 अतिसंवेदनशील परीक्षा केन्द्र बनाये गए हैं. यूपी बोर्ड ने जहां 2018 की परीक्षा में परीक्षा केन्द्रों पर सीसीटीवी कैमरे लगवाये थे. वहीं 2019 की बोर्ड परीक्षा में बोलकर नकल कराने की प्रवृत्ति पर रोक लगाने के लिए सीसीटीवी कैमरों में वॉयस रिकार्डर भी लगवाये गए थे. लेकिन यूपी बोर्ड परीक्षा में सख्ती बढ़ाते हुए अब परीक्षा केन्द्रों को ब्राडबैंड और राउटर से भी जोड़ दिया है. जिससे परीक्षा केन्द्रों की मानिटरिंग भी ऑन लाइन हो सकेगी. प्रदेश में बनाये गए 7784 परीक्षा केन्द्रों पर एक लाख 90 हजार सीसीटीवी कैमरे लगाये गए हैं. इसके साथ ही यूपी बोर्ड की ओर से पिछले वर्ष की ही तरह सभी 75 जिलों में बार कोडिंग की कापियां भेजी गईं हैं. वहीं इस बार कुछ जिलों में सिलाई वाली कापियां भी भेजी गईं हैं, ताकि कापियों के पेज न बदले जा सकें.

ये भी पढ़ें:

आगरा एक्सप्रेसवे पर भीषण सड़क हादसा, कार और रोडवेज बस की टक्कर में 6 की मौत

अलीगढ़: सट्टे के पैसों को लेकर दो गुटों में विवाद, गोली लगने से एक की मौत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इलाहाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 18, 2020, 8:47 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading