लाइव टीवी

UP Board Exam: योगी सरकार की सख्ती की वजह से अब तक 4 लाख से ज्यादा छात्रों ने छोड़ी परीक्षा
Allahabad News in Hindi

Sarvesh Dubey | News18 Uttar Pradesh
Updated: February 25, 2020, 11:31 AM IST
UP Board Exam: योगी सरकार की सख्ती की वजह से अब तक 4 लाख से ज्यादा छात्रों ने छोड़ी परीक्षा
यूपी बोर्ड परीक्षा में चार लाख से ज्यादा छात्रों ने छोड़ी परीक्षा

परीक्षा छोड़ने वाले परीक्षार्थियों आंकड़ा हाईस्कूल और इंटरमीडिएट में पंजीकृत परीक्षार्थियों के सात फीसदी से अधिक है.

  • Share this:
प्रयागराज. योगी सरकार (Yogi Adityanath) में 18 फरवरी से आयोजित हो रही उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद यानी यूपी बोर्ड (UP Board) 2020 की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं में नकल की सख्ती के चलते परीक्षा छोड़ने वाले परीक्षार्थियों का आंकड़ा चार लाख के पार पहुंच गया है. परीक्षा के पांचवें दिन यूपी बोर्ड की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक अब तक यूपी बोर्ड की परीक्षा में चार लाख 12 हजार 548 परीक्षार्थी परीक्षा छोड़ चुके हैं.

परीक्षा छोड़ने वाले परीक्षार्थियों आंकड़ा हाईस्कूल और इंटरमीडिएट में पंजीकृत परीक्षार्थियों के सात फीसदी से अधिक है. जबकि अब तक यूपी बोर्ड की परीक्षा में 183 परीक्षार्थी नकल करते पकड़े गए हैं. पांच दिनों की बोर्ड परीक्षा में अब तक 77 लोगों के खिलाफ नकल के मामले में एफआईआर भी दर्ज करायी गई है. सोमवार को पांचवे दिन हाईस्कूल की परीक्षा में 970 परीक्षार्थियों ने परीक्षा छोड़ी. तो वहीं इंटरमीडिएट की परीक्षा में 4398 परीक्षार्थियों ने परीक्षा छोड़ दी है.

पांचवें दिन भी परीक्षा छोड़ने का सिलसिला रहा जारी



योगी सरकार में नकल रोकने को लेकर की जा रही सख्ती का असर परीक्षा के होते ही दिखने लगा था. बोर्ड परीक्षा के शुरुआती तीन दिनों में ही तीन लाख 58 हजार 618 परीक्षार्थियों ने परीक्षा छोड़ दी थी. 18 फरवरी से शुरु हुई बोर्ड परीक्षा के पहले दिन हिन्दी और सामान्य हिन्दी के आसान विषय की परीक्षा में तीन लाख 16 हजार 116 परीक्षार्थियों ने परीक्षा छोड़ दी थी. वहीं दूसरे दिन भी परीक्षार्थियों के परीक्षा छोड़ने का सिलसिला जारी रहा. दूसरे दिन की परीक्षा में हाईस्कूल और इंटरमीडिएट को मिलाकर 1359 परीक्षार्थियों ने परीक्षा छोड़ी है. वहीं तीसरे दिन की परीक्षा में हाई स्कूल की परीक्षा में 4138 और इंटर की परीक्षा में 11555 परीक्षार्थियों को मिलाकर 15693 परीक्षार्थियों ने परीक्षा छोड़ दी थी. जबकि चौथे दिन हाईस्कूल की परीक्षा में 12371 और इंटरमीडिएट में 902 परीक्षार्थियों ने परीक्षा छोड़ी थी. जिसके बाद ये आंकड़ा बढ़कर तीन लाख 93 हजार 675 तक पहुंच गया था. वहीं पांचवे दिन की बोर्ड परीक्षा में ये आंकड़ा चार लाख के पार पहुंच गया है.



पहले दिन दो लाख से ज्यादा ने छोड़ी थी परीक्षा

पहले दिन सुबह की पाली में हाईस्कूल और शाम की पाली में इंटरमीडिएट की परीक्षा में दो लाख 39 हजार 133 परीक्षार्थियों के परीक्षा छोड़ने का आंकड़ा यूपी बोर्ड ने जारी किया था. लेकिन दूसरे दिन जब यूपी बोर्ड ने सभी जिलों से जानकारी जुटायी को ये आंकड़ा भी तीन लाख के पार पहुंच गया. वहीं बुधवार 19 फरवरी को बोर्ड परीक्षा के दूसरे दिन हाई स्कूल में पाली, अरबी, फारसी और इंटरमीडिएट संगीत, गायन, वादन व नृत्य की परीक्षा प्रदेश के 675 परीक्षा केन्द्रों पर आयोजित हुई. दूसरी पाली में हाईस्कूल संगीत गायन व इंटरमीडिएट में कृषि एवं व्यवसायिक शिक्षा की परीक्षा 2328 परीक्षा केन्द्रों पर करायी गई. पहली पाली में 10306 और दूसरी पाली में 97787 परीक्षार्थी पंजीकृत थे। जिसमें हाईस्कूल में 112 और इंटर में 1247 को मिलाकर 1359 परीक्षार्थी गैरहाजिर रहे. यूपी बोर्ड के अपर सचिव शिव लाल के मुताबिक बोर्ड परीक्षा में पहले दिन जहां 34 परीक्षार्थी नकल करते पकड़े गए थे. वहीं तीन दिनों में ये आंकड़ा भी बढ़कर 65 तक पहुंच गया. जबकि नकल में शामिल परीक्षार्थियों, कक्ष निरीक्षकों और प्रबन्धकों के खिलाफ कुल 12 एफआईआर दर्ज करायी गई है. परीक्षा के चौथे दिन तक 170 परीक्षार्थी नकल करते पकड़े गए और 53 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी गई थी.

इतने छात्र हुए थे पंजीकृत

एशिया की सबसे बड़ी परीक्षा संस्था यूपी बोर्ड परीक्षा में इस बार 56 लाख सात हजार 118 परीक्षार्थी पंजीकृत हैं. परीक्षा के लिए प्रदेश भर में 7784 परीक्षा केंद्र बनाये गए हैं. इस बार की परीक्षा में हाईस्कूल में 30 लाख 22 हजार 607 परिक्षार्थी,तो वही इंटर में 25 लाख 84 हजार 511 परीक्षार्थी पंजीकृत हैं. जबकि पिछले वर्ष हाई स्कूल में 31 लाख 92 हजार 587 परीक्षार्थी और इंटर में 26 लाख तीन हजार 169 परीक्षार्थी परीक्षा में बैठे थे. इस तरह से इस साल पिछले साल की तुलना में पहले से ही एक लाख 88 हजार 638 परीक्षार्थी कम सम्मिलित हो रहे थे. लेकिन नकल की सख्ती के चलते सात फीसदी से ज्यादा परीक्षार्थियों ने बोर्ड परीक्षा छोड़ दी है. ऐसे में ये माना जा रहा है कि अभी परीक्षार्थियों के परीक्षा छोड़ने का आंकड़ा और भी बढ़ सकता है. हम आपको बता दें कि इस बार हाईस्कूल की परीक्षायें 12 दिन और इंटर की परीक्षायें 15 दिन यानी छह मार्च तक चलेंगी.


 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इलाहाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 25, 2020, 11:31 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading