• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • ALLAHABAD UP BOARD RESULTS 2019 EXAMINATION ORGANISE IN MONIRATING WITH VOICE RECORDER UPNS

UP Board Result 2019: नकल रोकने को पहली बार 'वॉयस रिकॉर्डर' पर हुई परीक्षा, ये पड़ा असर

माध्यमिक शिक्षा परिषद

नकल के भरोसे परीक्षा पास करने वाले परीक्षार्थियों के पहले ही परीक्षा छोड़ देने से यूपी बोर्ड का रिजल्ट पहले से बेहतर होने की संभावना जतायी जा रही है.

  • Share this:
    उत्तर प्रदेश के हाईस्कूल और इंटरमीडिएट स्टूडेंट्स का इंतजार खत्म होने वाला है. उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद यानी यूपी बोर्ड के हाईस्कूल व इंटर के परिणाम आज (27 अप्रैल) आने वाले हैं. जानकारी के अनुसार एशिया की सबसे बड़ी परीक्षा संस्था उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद यानी यूपी बोर्ड के 10वीं और 12वीं के नतीजे (UP Board results 2019) एक साथ घोषित किए जाएंगे. परीक्षाओं को नकल विहीन कराने के लिए पहली बार हर परीक्षा कक्ष में दो-दो वायस रिकॉर्डर युक्त सीसीटीवी कैमरे लगवाए गए थे.

    यूपी बोर्ड की सचिव नीना श्रीवास्तव के मुताबिक बोर्ड की परीक्षा को नकल विहीन परीक्षा कराने के लिए पहली बार परीक्षा केन्द्रों पर सीसीटीवी कैमरों के साथ वॉयस रिकार्डर का भी प्रयोग किया गया. नकल के भरोसे परीक्षा पास करने वाले परीक्षार्थियों के पहले ही परीक्षा छोड़ देने से यूपी बोर्ड का रिजल्ट पहले से बेहतर होने की संभावना जतायी जा रही है. बता दें इस बार करीब पौने 7 लाख परीक्षार्थियों ने परीक्षा छोड़ दी है. इसके पीछे सीसीटीवी और वायस रिकॉर्डर के कदम को आधार माना जा रहा है.

    (यूपी बोर्ड के 10वीं और 12वीं कक्षा के नतीजे सबसे पहले देखने के लिए यहां क्लिक करें

    यूपी बोर्ड की सचिव नीना श्रीवास्तव ने बताया कि रिजल्ट 27 अप्रैल को 12.30 बजे प्रयागराज में यूपी बोर्ड के मुख्यालय में घोषित होगा. परीक्षा परिणाम की घोषणा बोर्ड मुख्यालय पर 12.30 बजे सभापति विनय कुमार पांडेय एवं सचिव नीना श्रीवास्तव की ओर से की जाएगी. बता दें छात्र UP Board Result 2019 के लिए www.news18up.com पर भी लाॅग-इन कर सकते हैं. यूपी बोर्ड रिजल्ट से जुड़ी तमाम खबरों को भी आप हमारी वेबसाइट पर देख सकते हैं.

    यूपी बोर्ड की सचिव नीना श्रीवास्तव  ने बताया कि 2018 में यूपी बोर्ड का रिजल्ट 29 अप्रैल को घोषित किया गया था. तब भी यह पिछले कई दशकों में सबसे जल्दी घोषित किया गया रिजल्ट था. बोर्ड कॉपियों के मूल्यांकन के लिए 1 लाख 24 हजार 796 परीक्षकों की ड्यूटी लगायी गयी थी. इनमें 79064 हाईस्कूल की कापियों के मूल्यांकन जबकि 45732 परीक्षक इंटरमीडिएट की कापियों के मुल्यांकन में जुटे थे. इस बार परीक्षकों ने हाईस्कूल की 1.90 करोड़ कापियों और इंटरमीडिएट की 1.30 करोड़ कापियों का मूल्यांकन कार्य पूरा किया.

    ये भी पढ़ें:

    UP Board Result 2019: चुनावी शोरगुल के बीच कल घोषित होंगे परीक्षा परिणाम

    UP Board Result 2019: देश के सबसे बड़े हिन्‍दीभाषी प्रदेश में 11 लाख से ज्यादा छात्र हुए थे हिन्‍दी में फेल

    UP Board Results 2019: जानिए क्या कर रहे हैं पिछले साल के टॉपर आकाश मौर्या

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स

     
    First published: