• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • UP News: महंत नरेंद्र गिरी बोले- मुस्लिम समाज रोके बकरीद पर होने वाली कुर्बानी

UP News: महंत नरेंद्र गिरी बोले- मुस्लिम समाज रोके बकरीद पर होने वाली कुर्बानी

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद् के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद् के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी

Mahant Narendra Giri Statement: अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के महंत नरेन्द्र गिरी ने कहा कि मुसलमान बकरीद पर ज्यादा भीड़भाड़ न करें, मुस्लिम धर्मगुरु लोगों से घरों में ही नमाज पढ़ने की अपील करें. मुस्लिम समुदाय को बकरीद के पर्व पर होने वाली कुर्बानी पर रोक लगानी चाहिए.

  • Share this:
प्रयागराज. 21 जुलाई को होने वाले ईद उल अजहा यानी बकरीद के त्योहार को लेकर अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि ने कहा है कि बकरीद के त्योहार में भी ज्यादा भीड़भाड़ नहीं होनी चाहिए. उन्होंने मुस्लिम धर्मगुरुओं से अपील की है कि वह मस्जिदों से ऐलान करें कि लोग अपने घरों में ही बकरीद की नमाज अदा करें और कोविड गाइडलाइन का पालन करते हुए बकरीद का त्यौहार सादगी से मनाएं.

बता दें कि देश में कोरोना की थर्ड वेब की आशंका के मद्देनजर यूपी की योगी सरकार (Yogi Government) ने कांवड़ यात्रा पर रोक लगाने का फैसला लिया है. योगी सरकार के इस फैसले का साधु-संतों की सबसे बड़ी संस्था अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद (Akhil Bhartiya Akhara Parishad) ने स्वागत किया है. अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि (Mahant Narendra Giri) ने कहा कि धार्मिक आस्था और परंपरा जरूरी है, लेकिन लोगों का जीवन बचना उससे कहीं ज्यादा जरूरी है. इसको देखते हुए अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद, कांवड़ संघों और दूसरे साधु संतों ने भी सीएम योगी से यह मांग की थी कि इस वर्ष कांवड़ यात्रा पर रोक लगाई जाए. योगी सरकार ने लोगों के जीवन रक्षा के मद्देनजर इस साल कांवड़ यात्रा पर पाबंदी लगा दी है.

जानवरों की कुर्बानी की कुप्रथा पर रोक लगनी चाहिए
महंत नरेंद्र गिरि ने कहा कि बकरीद के त्योहार पर मुस्लिम समुदाय के लोग बड़ी संख्या में बकरों व दूसरे जानवरों की कुर्बानी भी देते हैं. इससे पूरे देश में लाखों जानवरों की जान जाती है. उन्होंने मुस्लिम धर्मगुरुओं से अपील की है कि जानवरों की कुर्बानी की परंपरा पर भी रोक लगनी चाहिए. ‌इसके लिए भी मुस्लिम धर्मगुरुओं को आगे आना चाहिए. महंत नरेंद्र गिरी ने कहा कि सनातन धर्म में भी देवी-देवताओं को प्रसन्न करने के लिए पशुओं के बलि देने की प्रथा थी. जिसे हिंदू समाज ने कुप्रथा के रूप में लेते हुए पूरी तरह से समाप्त कर दिया है. इसी तरह से मुस्लिम समुदाय के लोगों को भी बकरीद के पर्व पर होने वाली कुर्बानी पर रोक लगानी चाहिए.

बकरीद को सादगी के साथ मानने की अपील
अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि ने एक बार फिर से मुस्लिम धर्मगुरुओं से अपील की है कि वह बकरीद का त्यौहार लोगों से सादगी और कोविड प्रोटोकॉल (Covid Protocol) के साथ मनाए जाने की अपील करें. उन्होंने कहा है कि कुर्बानी को लेकर भी मुस्लिम धर्म गुरुओं को जरूर विचार करना चाहिए.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज