UP TET 2019: STF की कई जिलों में ताबड़तोड़ कार्रवाई, गाजीपुर-प्रयागराज से 12 गिरफ्तार

यूपी टीईटी परीक्षा को लेकर स्पेशल टास्क फोर्स कई जिलों में कार्रवाई कर रही है.
यूपी टीईटी परीक्षा को लेकर स्पेशल टास्क फोर्स कई जिलों में कार्रवाई कर रही है.

एसटीएफ (STF) ने गिरफ्तार अभियुक्तों के पास से 180 मोबाइल फोन, 220 प्री-एक्टिवेटेड सिम, एक ब्लूटूथ स्पीकर डिवाइस, एक इनोवा क्रिस्टा कार, एक टाटा मांजा कार और दो मोटरसाइकिल और 4 लाख 11 हजार रुपये कैश बरामद किया है

  • Share this:
प्रयागराज. उत्तर प्रदेश स्पेशल टास्क फोर्स (UP STF) ने उत्तर प्रदेश टीईटी परीक्षा (UP TET Examination) में पेपर आउट करने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया है. एसटीएफ (STF) ने इस संबंध में प्रयागराज (Prayagraj) से सात लोगों को गिरफ्तार (Arrest) किया है. एसटीएफ ने गिरोह के मुख्य सरगना समेत कॉलेज प्रबंधक, दलाल, सॉल्वर, मोबाइल और सिम डीलर सहित कुल सात अभियुक्तों को थाना सिविल लाइंस क्षेत्र से गिरफ्तार किया. इनके कब्जे से 180 मोबाइल फोन, 220 अदद प्री-एक्टिवेटेड सिम, एक ब्लूटूथ स्पीकर डिवाइस, एक इनोवा क्रिस्टा कार, एक टाटा मांजा कार और दो मोटरसाइकिल जब्त किया है. इसके अलावा एसटीएफ ने चार लाख 11 हजार रुपये कैश भी बरामद किया है.

गाजीपुर में प्रिंसिपल सहित 5 लोग गिरफ्तार

इससे पहले एसटीएफ ने गाजीपुर में बुद्धम शरणम इंटर कॉलेज के प्रिंसिपल, क्लर्क समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया. इनमें प्रिंसिपल पारस सिंह कुशवाहा, चंद्रभान कुशवाहा, अजीत कुशवाहा, चंद्रपाल कुशवाहा, क्लर्क सियाराम यादव को गिरफ्तार किया गया है. आरोप है कि ये सभी प्रश्नपत्रों को मोबाइल फोन से स्कैन कर डेढ़ लाख रुपये में बेचने की योजना बना रहे थे.



ghazipur UPTET
गाजीपुर में पेपर लीक करने वाले गिरोह में शामिल पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है

गिरफ्तार अजीत के मोबाइल फोन में पत्रों के C और D सेट के कुल 50 पेज रिकवर किए गए हैं. साथ ही कुछ पत्रों के प्रिंटिंग भी बरामद किए गए हैं. पता चला है कि गिरफ्तार प्रिंसिपल पारस सिंह कुशवाहा वर्ष 2016 में यूपी पालीटेक्निक एंट्रेंस में जेल जा चुका है.

ये भी पढ़ें:

UP TET 2019: गाजीपुर में पेपर आउट करने के आरोप में प्रिंसिपल सहित 5 गिरफ्तार

UP TET 2019: पहली पाली की परीक्षा खत्म, गाजीपुर में WhatsApp से नकल की कोशिश
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज