Lockdown 5.0: सेनेटाइजेशन के बाद प्रयागराज से शुरू हुआ रोडवेज बसों का संचालन
Allahabad News in Hindi

Lockdown 5.0: सेनेटाइजेशन के बाद प्रयागराज से शुरू हुआ रोडवेज बसों का संचालन
सेनेटाइजेशन के बाद प्रयागराज से शुरू हुई रोडवेज बस सेवा

यात्रा (Travelling) के बीच में भी यात्री हाथ को साफ करने की सुविधा होगी. इसके अलावा बिना मुंह ढके किसी भी यात्री को सफर करने की इजाजत नहीं दी जा रही है.

  • Share this:
प्रयागराज. उत्तर प्रदेश में सोमवार से अनलॉक-1.0 शुरू हो गया है. इसके तहत तमाम तरह की रियायतें दी गई हैं. ऐसे में अब उत्‍तर प्रदेश में बसों (Buses) का संचालन शुरू हो गया है. इसी क्रम में प्रयागराज (Prayagraj) के सिविल लाइन रोडवेज से आज सुबह 8 बजे से बसों का संचालन नई गाइडलाइन के तहत शुरू किया गया है. बस अड्डे पर आने वाले हर एक यात्री की थर्मल स्क्रीनिंग करायी जा रही है. इसके साथ ही बसों और पूरे रोडवेज परिसर को भी सेनेटाइज कराया जा रहा है. बसों का संचालन शुरू कराने के लिए सिविल लाइन रोडवेज पर यूपीएसआरटीसी (UPSRTC) के रीजनल मैनेजर टी के एस विषेन खुद मौजद रहे.

उन्होंने बसों के चालकों और परिचालकों को लॉकडाउन-5 की गाइडलाइन का सख्ती से पालन करने के सख्त निर्देश दिये हैं. आरएम के मुताबिक बस चालकों और परिचालकों को मास्क और सेनेटाइजर उपलब्ध कराये गए हैं. जबकि बसों में सफर करने वाले यात्रियों के हाथों को सेनेटाइज कराने के लिए आधा लीटर अतिरिक्त सेनेटाजर बसों में उपलब्ध कराये गए हैं. उनके मुताबिक बसों की पूरी सीटिंग कैपासिटी में बसों का संचालन किया जायेगा. फिलहाल इंटर स्टेट बसों का संचालन रोकते हुए 90 फीसदी बसों का संचालन स्टेट हाईवे पर अन्तर्जनपदीय शुरू किया गया है.

बस में खड़े होकर सफर करने की इजाजत नहीं
बसों में सीटों की संख्या के आधार पर ही यात्रियों को बैठने की इजाजत दी जा रही है. यानी कि कोई भी यात्री बस में खड़े होकर सफर नहीं कर पाएगा. इसके साथ ही जो भी कंडक्टर और ड्राइवर इन बसों का संचालन कर रहे हैं, उनके लिये भी इंतजाम किए गए हैं. उनके लिए भी मास्क और सैनिटाइजर की व्यवस्था की गई है और इसके अलावा बसों में भी सैनिटाइजेशन की व्यवस्था रखी गई है.



यात्रा के दौरान हाथ साफ करने की होगी सुविधा



यात्रा के बीच में भी यात्री हाथ को साफ करने की सुविधा होगी. इसके अलावा बिना मुंह ढके किसी भी यात्री को सफर करने की इजाजत नहीं दी जा रही है. जो लोग बिना मास्क के रूमाल या गमछे से मुंह ढक कर सफर करेंगे, उन्हें इजाजत नहीं दी जाएगी. ऐसे लोगों के लिए मास्क की वैकल्पिक व्यवस्था भी की गई है. स्पष्ट है कि अब राज्य सरकार द्वारा राज्य के किसी भी इलाके में फंसे लोगों को अपने घर तक जाने की पूरी व्यवस्था बसों के जरिए दी जा रही है.

ये भी पढ़ें:

प्रियंका गांधी ने ट्वीट किया यूपी में कोरोना मरीजों का वीडियो, बोलीं- सच्चाई सीएम के प्रचार से अलग
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading