अपना शहर चुनें

States

सैफ अली खान की वेब सीरीज तांडव विवाद पहुंचा सुप्रीम कोर्ट, विवादित अंश हटाने के लिए भेजी गई पत्र याचिका

'तांडव' वेब सीरीज अमेजन प्राइम पर र‍िलीज हुई है.
'तांडव' वेब सीरीज अमेजन प्राइम पर र‍िलीज हुई है.

Web Series Tandav Controversy: पत्र याचिका में वेब सीरीज तांडव के उस अंश को हटाए जाने की मांग की गई है जिसमें देवी देवताओं का अपमान किया गया है. अधिवक्ता गौरव द्विवेदी ने अमेजॉन प्राइम वीडियो की कंटेंट हेड अपर्णा पुरोहित को पक्षकार बनाते हुए, उनके खिलाफ भी कार्रवाई की मांग की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 19, 2021, 8:15 AM IST
  • Share this:
प्रयागराज. ओटीटी प्लेटफार्म अमेजन प्राइम (Amazon Prime) पर रिलीज हुई वेब सीरीज तांडव (Web Series Tandav) को लेकर मचे कोहराम के बीच इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad high Court) के वकील गौरव द्विवेदी ने चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया (Chief Justice of India) को पत्र याचिका भेजकर हस्तक्षेप की मांग की है. उन्होंने चीफ जस्टिस आफ इंडिया को भेजी गई पत्र याचिका में हिंदू देवी देवताओं को अपमानित करने पर रोक लगाने के लिए दखल देने की मांग की है. पत्र याचिका में कहा गया है कि पूरे देश में तांडव वेब सीरीज को लेकर लोग विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं और शिकायतें भी दर्ज कराई जा रही हैं. लेकिन हाल के दिनों में जिस तरह से वेब सीरीज के जरिए हिंदुत्व को टारगेट करके आपत्तिजनक कंटेंट परोसे जा रहे हैं, उससे लोगों में काफी गुस्सा है.

पत्र याचिका में वेब सीरीज तांडव के उस अंश को हटाए जाने की मांग की गई है जिसमें देवी देवताओं का अपमान किया गया है. अधिवक्ता गौरव द्विवेदी ने अमेजॉन प्राइम वीडियो की कंटेंट हेड अपर्णा पुरोहित को पक्षकार बनाते हुए, उनके खिलाफ भी कार्रवाई की मांग की है. पत्र याचिका में कहा गया है की वेब सीरीज सेंसर बोर्ड के दायरे में नहीं आती है. इसलिए सुप्रीम कोर्ट से मांग की गई है कि वह राज्य सरकार को निर्देशित करें की ऐसी वेब सीरीज के प्रोडक्शन की सुपरवाइजरी बॉडी बनाएं और सेंसर बोर्ड को ये अधिकार दिए जाएं कि इनकी कंटेंट को देख सकें.

लखनऊ में दर्ज हुई है एफआईआर 



हालांकि इस मामले में प्रदेश की राजधानी लखनऊ के हजरतगंज थाने में वेब सीरीज तांडव के डायरेक्टर अली अब्बास जफर, प्रोड्यूसर हिमांशु शुक्ला और राइटर गौरव सोलंकी के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज हो गया है. इसके साथ ही साथ देश में कई अन्य जगहों पर भी इस मामले को लेकर विरोध प्रदर्शन का दौर जारी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज