अयोध्या आतंकी हमला: ट्रायल कोर्ट के फैसले को HC में चुनौती देगी योगी सरकार

अयोध्या (Ayodhya) के राम जन्मभूमि परिसर (Ram Janambhoomi) में हुए आतंकी हमले के मामले में सरकार इलाहाबाद हाईकोर्ट में क्रिमिनल अपील दाखिल करेगी, जिसमें उम्र कैद की सजा पाए चार दोषियों के लिए फांसी की सजा की मांग करेगी.

Sarvesh Dubey | News18 Uttar Pradesh
Updated: August 14, 2019, 5:10 PM IST
अयोध्या आतंकी हमला: ट्रायल कोर्ट के फैसले को HC में चुनौती देगी योगी सरकार
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की फाइल फोटो
Sarvesh Dubey | News18 Uttar Pradesh
Updated: August 14, 2019, 5:10 PM IST
अयोध्या (Ayodhya) के राम जन्मभूमि परिसर (Ram Janambhoomi) में हुए आतंकी हमले के मामले में ट्रायल कोर्ट के फैसले को सूबे की योगी सरकार (Yogi Government) इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) में चुनौती देगी. सरकार इलाहाबाद हाईकोर्ट में क्रिमिनल अपील दाखिल करेगी, जिसमें उम्र कैद की सजा पाए चार दोषियों के लिए फांसी की सजा की मांग करेगी. साथ ही सबूतों के अभाव में बरी एक आरोपी के खिलाफ भी कार्रवाई की मांग की जाएगी. डीजीसी क्रिमिनल गुलाब चंद्र अग्रहरि ने इस बात की जानकारी दी.

गौरतलब है कि 18 जून 2019 को स्पेशल कोर्ट ने नैनी सेंट्रल जेल ने इस मामले में फैसला सुनाया था. ट्रायल कोर्ट ने चार आरोपियों डॉ इरफान, मो नसीम, शकील अहमद और इकबाल उर्फ फारुख को दोषी मानते हुए उम्र कैद की सजा सुनाई थी. जबकि एक अन्य आरोपी मोहम्मद अजीम को सबूतों के अभाव में बरी कर दिया था. दोषी करार दिए गए चारों आरोपी नैनी सेंट्रल जेल में बंद हैं, जबकि मोहम्मद अजीम रिहा होकर जम्मू-कश्मीर जा चुका है.

ayodhya terror attack
14 साल पहले 5 जुलाई को हुआ था अयोध्या के राम जन्मभूमि परिसर में आतंकी हमला


63 गवाहों ने दर्ज करवाए थे बयान

इस मामले में कुल 63 गवाहों ने अपने बयान दर्ज करवाए थे, जिसमें 14 पुलिसकर्मी थे. बता दें कि आतंकी हमले के साजिशकर्ता अरशद को मौके पर ही मार गिराया गया था. 5 जुलाई 2005 में हुए आतंकी हमले में दो लोग मारे गए थे, तो वहीं कुछ सुरक्षाकर्मी घायल भी हुए थे.

लश्कर-ए-तैयबा के आतंकियों ने बनाया था निशाना
बता दें कि 5 जुलाई को हुआ ये हमला तब हुआ था जब रामजन्मभूमि-बाबरी मस्जिद कॉम्पल्केस पुख्ता सुरक्षा में था. लेकिन लश्कर-ए-तैयबा के आतंकियों ने इसे निशाना बनाया. सभी आतंकी नेपाल के रास्ते भारत में घुसे थे. हालांकि, सुरक्षा एजेंसियों ने एक ही घंटे के अंदर आतंकियों को ढेर कर दिया था और किसी बड़े खतरे को टाल दिया था.
Loading...

ये भी पढ़ें:

आर्टिकल 370 के खात्मे से बीजेपी की लोकप्रियता में जबरदस्त इजाफा, बनने लगे दोगुने सदस्य

नीरज शेखर ने राज्यसभा के लिए किया नामांकन, कहा- सपा में नहीं मिल रहा था सम्मान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इलाहाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 14, 2019, 4:25 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...